Covid-19 Update: बिहार में कोरोना के 7487 मरीज मिले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

पीएमसीएच में 6, एनएमसीएच में 8 जबकि एम्स में 3 और अन्य अस्पतालों में भी कई मरीज काल के गाल में समा गए.  (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

पीएमसीएच में 6, एनएमसीएच में 8 जबकि एम्स में 3 और अन्य अस्पतालों में भी कई मरीज काल के गाल में समा गए. (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

सरकार और कोरोना वॉरियर्स (Corona warriors) दिन रात संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए काम कर रहे हैं. इसके बावजूद भी कोरोना का खतरा बढ़ता ही जा रहा है.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में कोरोना वायरस (Corona virus) बहुत ही तेज गति से फैल रहा है. यहां पर रोज हजारों मरीज सामने आ रहे हैं. इससे लोगों के बीच भय का माहौल बना हुआ है. साथ ही रोज कई लोगों की मौत भी हो रही है. हालांकि, सरकार और कोरोना वॉरियर्स (Corona warriors) दिन रात संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए काम कर रहे हैं. इसके बावजूद भी कोरोना का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. बीते 24 घंटे में बिहार में सबसे ज्यादा 7487 कोरोना के मामले मिले हैं. वहीं, मौत के आंकड़ों ने भी अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. राज्य में 24 घंटे के भीतर 41 लोगों की कोरोना से जान चली गई, जो कि अब तक का सर्वाधिक मामला है.

जानकारी के मुताबिक, पीएमसीएच में 6, एनएमसीएच में 8 जबकि एम्स में 3 और अन्य अस्पतालों में भी कई मरीज काल के गाल में समा गए. राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 49527 हो गई है. सबसे ज्यादा पॉजिटिव मरीज पटना जिले में मिले हैं,  जहां 24 घंटे में सर्वाधिक 2672 मरीज पॉजिटिव मिले हैं. इधर आंकड़ों में इजाफा को देखते हुए पटना जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने सभी अधिकारियों को टेस्टिंग, ट्रेसिंग और मॉइकिंग करने में तेजी लाने का निर्देश दिया है. सभी पीएचसी, सीएचसी में एंटीजन और आरटीपीसीआर जांच में इजाफा लाने के अलावे संपर्क में आये लोगों का पता लगाने का निर्देश दिया है.

 24 प्रचार गाड़ियों को भी रवाना किया है

जिलाधिकारी ने इसको लेकर 24 प्रचार गाड़ियों को भी रवाना किया है. साथ ही लोगों से आज से लागू हुए नाइट कर्फ्यू का सख्ती से पालन करने की अपील की है. जिलाधिकारी के अलावा एसएसपी और तमाम अधिकारी रात तक खुद भी नाइट कर्फ्यू का पालन करवाने में जुटे रहे. और आज से नियम तोड़ने वालों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी, ताकि लोग इसके चलते भी अपने घरों में कैद रहें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज