Covid-19 Update: कोवैक्सीन के परीक्षण के लिए पटना AIIMS में बच्चों की जांच शुरू

टीके के परीक्षण के लिए 50 से अधिक बच्चों का अबतक पंजीकरण हो चुका है और शीघ्र ही कोवैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा. (फाइल फोटो)

टीके के परीक्षण के लिए 50 से अधिक बच्चों का अबतक पंजीकरण हो चुका है और शीघ्र ही कोवैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा. (फाइल फोटो)

पटना एम्स के कोविड-19 प्रभारी डॉक्टर संजीव कुमार (Covid-19 in-charge Dr Sanjeev Kumar) ने बुधवार को बताया कि शिशु रोग विशेषज्ञों ने छह से 12 वर्ष के बच्चों की विभिन्न जांचे शुरू कर दी हैं.

  • Share this:

पटना. कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) से बचाव के लिए कोवैक्सीन (Covaccine) के टीकों के बच्चों में परीक्षण के लिए, यहां के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में छह से12 वर्ष के बच्चों की जांच शुरू हो गई. पटना एम्स के कोविड-19 प्रभारी डॉक्टर संजीव कुमार (Covid-19 in-charge Dr Sanjeev Kumar) ने बुधवार को बताया कि शिशु रोग विशेषज्ञों ने छह से 12 वर्ष के बच्चों की विभिन्न जांचे शुरू कर दी हैं. टीके के परीक्षण के लिए 50 से अधिक बच्चों का अबतक पंजीकरण हो चुका है और शीघ्र ही कोवैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा. उल्लेखनीय है कि 12 से 17 वर्ष की उम्र तक के 87 बच्चों ने क्लिनिकल ट्रायल के लिए पंजीकरण कराया था, एक जून से यह प्रक्रिया शुरू हो गई.

वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि बिहार में कोरोना महामारी को रोकने के उद्देश्य से लगाया गया लॉकडाउन (Bihar Lockdown) हटा लिया गया है. इस बात का फैसला मंगलवार को बिहार सरकार के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में लिया गया. दरअसल, पहले से ही ये कयास लगाए जा रहे थे कि बिहार सरकार कोविड-19 (Bihar Corona Cases) के केस कम होने की वजह से लोगों को लॉकडाउन से राहत दे सकती है. मंगलवार को बिहार सरकार के महत्वपूर्ण बैठक में लॉकडाउन को हटाने के फैसले पर मुहर लग गई.

भीड़भाड़ से बचने की आवश्यकता है

हालांकि, बिहार सरकार ने इस दौरान कई तरह की बंदिशों को लागू रखा है, जिसमें नाइट कर्फ्यू भी शामिल है. नए नियमों को लेकर जल्द ही निर्देश जारी किए जाएंगे. बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण में कमी आई है. अतः लॉकडाउन खत्म करते हुए शाम 7 बजे से सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फ्यू जारी रखने का फैसला किया गया है. 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ सरकारी एवं निजी कार्यालय 4 बजे अपराह्न तक खुल सकेंगे. दुकान खुलने की अवधि 5 बजे अपराह्न तक होगी. ऑनलाइन शिक्षण कार्य किए जा सकेंगे. साथ ही निजी वाहनों के चलने की अनुमति रहेगी. यह व्यवस्था अगले एक सप्ताह तक रहेगी. सीएम नीतीश ने इसके साथ ही आगाह किया कि अभी भी भीड़भाड़ से बचने की आवश्यकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज