होम /न्यूज /बिहार /

टीचर के साथ आती-जाती थी कोचिंग, सिरफिरे आशिक को नहीं हुआ सहन, उठा लिया खौफनाक कदम

टीचर के साथ आती-जाती थी कोचिंग, सिरफिरे आशिक को नहीं हुआ सहन, उठा लिया खौफनाक कदम

युवक की सनक की शिकार काजल फिलहाल वेंटिलेटर पर है.

युवक की सनक की शिकार काजल फिलहाल वेंटिलेटर पर है.

Crime Against Woman: इस वारदात के बारे में बताया गया कि युवती कोचिंग सेंटर से अपने घर लौट रही थी, तभी सुबोध ने पीछे से आकर उसे गोली मार दी. सीसीटीवी फुटेज से यह तस्वीर साफ हो गई कि एक सुबोध ने एक पॉलिथीन से पिस्टल निकाल कर गोली चलाई है. युवती को घायल अवस्था में एक निजी नर्सिंग होम में एडमिट किया गया है, जहां उसकी हालत अभी भी नाजुक है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

सीसीटीवी फुटेज में दिखा कि एक शख्स युवती के पीछे आया और पॉलिथीन से पिस्टल निकाली.
सनकी प्रेमी ने युवती को पीछे से गोली मारी थी, जो कंधे से होती हुई उसके गले में अटक गई थी.
डॉक्टरों ने गर्दन में फंसी गोली निकाल दी है लेकिन युवती को फिलहाल वेंटिलेटर पर रखा गया है.

पटना. पटना के बेउर में एक युवती को सिरफिरे आशिक ने पीछे से गोली मार दी. उसे तत्काल एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने गर्दन में फंसी गोली निकाल दी है. फिलहाल युवती को वेंटिलेटर पर रखा गया है और उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है. युवती की पहचान सिपारा की रहनेवाली काजल के रूप में हुई है.

यह वारदात पटना के बेउर के सिपारा में हुई है. घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी में यह वारदात रिकॉर्ड हो गई है. पुलिस ने आरोपी युवक की पहचान सुबोध नाम के शख्स के रूप में की है. फिलहाल पुलिस इसे प्रेम प्रसंग का मामला मानकर छानबीन कर रही है. सुबोध की गिरफ्तारी के लिए पुलिस नालंदा जिले में छापेमारी कर रही है.

इस वारदात के बारे में बताया गया कि युवती कोचिंग सेंटर से अपने घर लौट रही थी, तभी सुबोध ने पीछे से आकर उसे गोली मार दी. सीसीटीवी फुटेज से यह तस्वीर साफ हो गई कि एक सुबोध ने एक पॉलिथीन से पिस्टल निकाल कर गोली चलाई है. युवती को घायल अवस्था में एक निजी नर्सिंग होम में एडमिट किया गया है, जहां उसकी हालत अभी भी नाजुक है.

डॉक्टरों के मुताबिक, युवती को पीछे से गोली मारी गई थी. कंधे से होती हुई गोली युवती के गले में अटक गई थी, जिसे निकाल दिया गया है. गोली निकलने के बाद भी युवती वेंटिलेटर पर है और जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है. अभी भी उसकी कंडीशन क्रिटिकल है. डॉक्टर का कहना है कि जब तक वेंटिलेटर से वह बाहर नहीं निकल जाती, तब तक कुछ भी कहना मुश्किल है.

इस मामले में काजल की मां हेमंत देवी का कहना है कि उनकी बेटी बगल की गली में ही एक कोचिंग में पढ़ती है. वह वहीं के एक टीचर के साथ आती-जाती थी, जो सुबोध को नागवार गुजरा और उसने कोचिंग से लौटने के दौरान ही काजल को गोली मार दी. पिता सेठ शाह का कहना है कि हमारी किसी से दुश्मनी नहीं थी, फिर मेरी बेटी के साथ ऐसा क्यों किया गया. वहीं बैठे मौसा मोतीलाल का कहना है कि गोली लगने की सूचना मिलते ही हम मौके पर पहुंचे और काजल को तुरंत अस्पताल ले आए.

बहरहाल अभी भी काजल की स्थिति नाजुक बनी हुई है. पुलिस इस मामले को प्रेम प्रसंग मानकर सीसीटीवी में कैद सुबोध की तलाश करने के लिए नालंदा जिले में छापेमारी कर रही है. अब देखना यह होगा कि पुलिस आरोपी सुबोध को कब तक पकड़ पाती है.

Tags: Crime Against woman, Crime In Bihar, Crime News

अगली ख़बर