अपना शहर चुनें

States

Bihar Crime 2020: किडनैपिंग में 20 तो फिरौती केस में 125% वृद्धि, जानें बिहार में कितना बढ़ा क्राइम का ग्राफ

बिहार में अपराध से जुड़े मामलों को लेकर पुलिस मुख्यालय ने आंकड़े जारी किए हैं (प्रतीकात्मक तस्वीर)
बिहार में अपराध से जुड़े मामलों को लेकर पुलिस मुख्यालय ने आंकड़े जारी किए हैं (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bihar Crime Rate: बिहार में बढ़ती आपराधिक घटनाओं के बीच पुलिस मुख्यालय (Bihar Police) ने 2020 का जनवरी से सितंबर का एक साथ और अक्टूबर का अलग से क्राइम डाटा (SCRB Data) जारी किया है.

  • Share this:
पटना. बिहार में अपराध के बढ़ते मामलों के बीच बुधवार काे पुलिस मुख्यालय (Bihar Police Headquarter) ने 2020 का क्राइम रिकॉर्ड आंकड़ा जारी किया है. इस आंकड़े में जनवरी से सितंबर तक का औसतन एक साथ और अलग से अक्टूबर 2020 के अपराध के मामले जारी किए गए हैं. बुधवार काे जारी आंकड़े के अनुसार, इस साल पिछले नाै महीने यानी जनवरी से सितंबर के मुकाबले अक्टूबर में संज्ञेय अपराध में 3.12 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. जनवरी से सितंबर तक कुल संज्ञेय अपराध 21419 हुए जबकि अक्टूबर 2020 में 22068 केस दर्ज हुए.

संगीन अपराधाें में  हत्या, डकैती, लूट, गृहभेदन, चाेरी, दंगा, रेप, राेड डकैती, राेड लूट में कमी आई है, हालांकि जनवरी से सितंबर के मुकाबले अपहरण और फिराैती के लिए अपहरण में बढ़ाेतरी हुई है. मुख्यालय द्वारा अक्टूबर के जारी आंकड़े टेंटेटिव हैं, जबकि जनवरी से सितंबर तक के अपराध आंकड़े औसत में जारी किए गए हैं.

हत्या में 9 ताे डकैती में 89 व लूट में 72 प्रतिशत कमी
आंकड़ों के अनुसार, जनवरी से सितंबर तक औसतन 267 हत्याएं हुईं, जबकि अक्टूबर में 243 मर्डर हुए, यानी 9.1 प्रतिशत की कमी आई. वहीं डकैती की सितंबर तक 10 वारदाताें हुईं, जबकि अक्टूबर माह में केवल दाे केस दर्ज किए गए यानी डकैती में सबसे बधिक 89.47 फीसदी की कमी दर्ज की गई. इसी तरह सितंबर तक बिहार में लूट के 153 मामले आए वहीं अक्टूबर में डकैती की 42 घटनाएं हुई और इसमें 72.63 प्रतिशत कमी आई. गृह भेदन में जहां 3.37, चाेरी में 7.03, दंगाें में 36.73, रेप में 20.25, राेड डकैती  में 10.81, राेड लूट में 19.77 फीसदी की कमी दर्ज की गई.
फिराैती के लिए अपहरण में 125 फीसदी का इजाफा


जनवरी से लेकर सितंबर तक अपहरण के औसतन 638 केस सामने आए जबकि अक्टूबर माह में 765 केस हुए, यानी अपहरण में 19.8 प्रतिशत का इजाफा हाे गया. फिराैती के लिए अपहरण की बात करें ताे नाै माह में औसतन 222 मामले आए वहीं केवल अक्टूबर माह में 5 केस हुए. फिराैती के लिए अपहरण में 125 फीसदी की बढ़ाेतरी हुई है.

2019 का आंकड़ा
इससे पहले पुलिस मुख्यालय ने मंगलवार काे ही 2019 का एससीआरबी का डाटा जारी किया था जिसमें 2018 के मुकाबले 2019 में दंगाें में कमी दर्ज की गई थी पर अन्य संगीन अपराधाें हत्या, लूट,डकैती, अपहरण, रेप, चाेरी, डकैती में इजाफा हुआ था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज