31 मार्च तक बंद रहेंगे बिहार के सभी स्कूल, कॉलेज, सिनेमाहॉल और चिड़ियाघर, बिहार दिवस कार्यक्रम भी रद्द

एक अने मार्ग पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कोरोना वायरस को लेकर हाई लेवल मीटिंग हुई.
एक अने मार्ग पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कोरोना वायरस को लेकर हाई लेवल मीटिंग हुई.

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि श्रीकृष्ण मेमोरियल और ज्ञान भवन जैसे सभी हॉल की बुकिंग भी नहीं होगी. उन्होंने बताया कि सरकारी कर्मियों को भी अल्टरनेट डे बुलाने पर विचार हो रहा है ताकि कार्यालयों में गैदरिंग ना हो.

  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे को देखते हुए बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए 31 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का फैसला लिया है. इसके साथ ही राज्य में होने वाली सभी परीक्षाएं भी कैंसिल कर दी गई हैं. बिहार दिवस के कार्यक्रम को रद्द किया गया है. सभी स्पोर्ट्स और कल्चरल इवेंट्स रद्द कर दिए गए हैं. इसके अलावा सरकार ने कहा है कि सभी पार्क और जू भी बंद रहेंगे. इस बात का निर्णय एक अणे मार्ग स्थित सीएम आवास (CM House) पर हाईलेवल मीटिंग में लिया गया.

कर्मचारियों को अल्टरनेट डे बुलाने पर विचार

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल और ज्ञान भवन जैसे सभी हॉल की बुकिंग भी नहीं होगी. उन्होंने बताया कि सरकारी कर्मियों को भी अल्टरनेट-डे बुलाने पर विचार हो रहा है, ताकि कार्यालयों में गैदरिंग ना हो. राज्य के सभी सिनेमा हॉल को बंद करने का निर्णय लिया गया है.  मुख्य सचिव ने बताया कि आज तक 142 मरीज ऑब्जर्वेशन में थे, जिनमें से 73 को डिस्चार्ज कर दिया गया है.



नॉनवेज पर रोक को लेकर कोई निर्देश नहीं
उन्होंने कहा कि इंडो-नेपाल बॉर्डर पर कड़ी जांच की जाएगी और सभी अस्पतालों के आईसीयू में बेड बढ़ाए जाएंगे. PMCH, AIIMS और IGIMS में 100 वेंटीलेटर बढ़ाने के निर्देश भी दिए गए हैं. नॉनवेज यानी मांसाहार पर रोक को लेकर अभी कोई निर्देश नहीं है. मुख्य सचिव ने कहा कि अभी 31 मार्च तक के लिए ये फैसला है और सोमवार को फिर इसकी समीक्षा की जाएगी.

सीएम नीतीश की अध्यक्षता में मीटिंग

इस उच्च स्तरीय मीटिंग में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी (Chief Minister Nitish Kumar and Deputy CM Sushil Kumar Modi) के साथ स्वास्थ्य मंत्री  मंगल पांडे, शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा, मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के सलाहकार अंजनी कुमार सिंह और गृह सचिव आमिर सुबहानी के साथ कई वरीय अधिकारी मौजूद रहे.

टीचर समन्वय समिति को नोटिस

इस बीच टीचर समन्वय समिति को पटना पुलिस की ओर से नोटिस भेजा गया है. 23 मार्च को गांधी मैदान में प्रस्तावित विरोध प्रदर्शन को स्थगित करने को कहा गया है. बता दें कि 23 और 24 मार्च को बिहार दिवस पर गांधी मैदान में कई कार्यक्रम प्रस्तावित है.

अलर्ट पर पीएमसीएच प्रशासन

बता दें कि पहले ही बिहार सरकार ने पीएमसीएच के सभी डॉक्टरों और अपने कर्मचारियों की छुट्टियों को रद्द कर दिया है. इसके साथ ही अस्पताल प्रशासन ने सभी डॉक्टरों और कर्मचारियों को अलर्ट मोड पर रहने के निर्देश दिए हैं. अगले आदेश तक सभी डॉक्टरों और कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं.

आंगनबाड़ी केंद्र अगले आदेश तक बंद

वहीं, दूसरी ओर राज्य के सभी जिलों में चलने वाले आंगनबाड़ी केंद्रों पर भी रोक लगा दी गई है. सरकार का यह फैसला अगले आदेश तक लागू रहेगा. राज्य सरकार ने निर्देश का असर तकरीबन डेढ़ लाख आंगनबाड़ी केंद्रों पर पड़ेगा. इसके साथ ही 14 मार्च को पटना में होने वाले 'बिहार स्टार्टअप कॉन्क्लेव' के कार्यक्रम को भी बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने रद्द कर दिया है.

कई राज्यों ने उठाए सख्त कदम

गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह 10 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार भारत में अभी तक 13 राज्यों में कोरोना वायरस के 75 मामले सामने आए हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है. तेजी से कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्यों में इसके प्रसार को रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाए हैं.

यूपी में 22 मार्च तक स्कूल- कॉलेज बंद

बता दें कि कोरोना वायरस को दिल्ली सरकार ने जहां महामारी (Epidemic) घोषित करते हुए 31 मार्च तक सभी स्कूलों को बंद कर दिया है, वहीं उत्तर प्रदेश सरकार महामारी (Pandemic) तो घोषित नहीं किया लेकिन इसके कुछ प्रावधान को लागू करते हुए राज्य में 22 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद (School Colleges Closed) करने का फैसला किया है.

(इनपुट- साकेत कुमार)

ये भी पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज