बिहार में घुसा तो मारा जाएगा विकास दुबे, अलर्ट पर 7 जिले की पुलिस- DGP
Patna News in Hindi

बिहार में घुसा तो मारा जाएगा विकास दुबे, अलर्ट पर 7 जिले की पुलिस- DGP
विकास दुबे की तलाश मे पुलिस

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (DGP Gupteshwar Pandey) ने कहा कि नेपाल बॉर्डर पर सबको अलर्ट किया गया है. बिहार पुलिस के जितने भी लोग बॉर्डर के सातों जिले में हैं, उनको अलर्ट मोड में रखा गया है.

  • Share this:
पटना. उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों का हत्यारा फरार विकास दुबे कहां छिपा है, इसका सुराग लगाने में यूपी पुलिस अब तक सफल नहीं हो पाई है. ढाई लाख के इनामी विकास दुबे (Vikas Dubey)  को लेकर कई तरह की बातें सामने आ रही हैं. कभी कहा जा रहा है कि वह नेपाल (Nepal) भाग गया है तो कभी उसके हरियाणा (Haryana) में छिपे होने की खबरें आ रही हैं. वहीं, कभी मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) तो कभी बिहार भाग जाने की बात कही जा रही है. हालांकि बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (DGP Gupteshwar Pandey) ने बिहार में उसके छिपे होने की बात से इनकार किया है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए यह भी दावा किया कि अगर वह बिहार में घुसेगा तो बचकर नहीं जा सकता है. इस बीच खबर है कि बिहार पुलिस (Bihar Police) ने यूपी से लगी सात जिलों की सीमा को हाई अलर्ट मोड में रहने को कहा है. पुलिस को किसी भी तरह की सूचना पर तुरंत कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है.

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि नेपाल बॉर्डर पर सबको अलर्ट किया गया है. बिहार पुलिस के जितने भी लोग बॉर्डर के सातों जिले में हैं, उनको अलर्ट मोड में रखा गया है. एसटीएफ को भी सतर्क रहने का आदेश दिया गया है. एक-एक चीज पर निगरानी रखी जा रही है. जिस दिन भी विकास दुबे बिहार में घुसने की हिम्मत करेगा, उसको पता चलेगा कि बिहार की पुलिस क्या है और बिहार की एसटीएफ क्या है.

बिहार के पुलिस मुखिया ने कहा कि एसटीएफ की टीम डीएसपी के नेतृत्व में बिहार-यूपी सीमा पर कैंप कर रही है और हर एक हरकत पर उसकी नजर है. एक टुकड़ी गोरखपुर में यूपी पुलिस के साथ है. सारे सिस्टम को एक्टिवेट किया गया है. ऐसे अपराधियों के प्रति हमारी कोई हमदर्दी नहीं है. अगर विकास दुबे बिहार में प्रवेश करेगा तो उसको इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा.




डीजीपी ने ये भी कहा कि बिहार और नेपाल बॉर्डर पर लोगों की आवाजाही रहती है पर कोई तभी छिप सकता है जब उसका कोई स्थानीय कनेक्शन हो. उसके जितने भी पॉसिबल लिंक या कनेक्शन हैं, सभी पर नजर रखी जा रही है. वह जैसे ही घुसने कि कोशिश करेगा हमें पता चल जाएगा. डीजीपी ने कहा कि कि विकास दुबे का मामला यूपी पुलिस और बिहार पुलिस का मामला ही नहीं है. एक पेशेवर अपराधी का मामला है जिसने निर्दोष आठ पुलिसवालों को मारा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading