लाइव टीवी
Elec-widget

अमित शाह को आती है ज्योतिष विद्या, सियासत के साथ-साथ शतरंज की चालों में भी हैं माहिर

Neel kamal | News18 Bihar
Updated: November 16, 2019, 8:11 PM IST
अमित शाह को आती है ज्योतिष विद्या, सियासत के साथ-साथ शतरंज की चालों में भी हैं माहिर
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह के जीवन पर आई किताब के ऊपर पटना में हुई परिचर्चा.

बिहार के पटना (Patna) में केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) के जीवन पर आधारित पुस्तक (Amit Shah And The March Of BJP) पर हुई परिचर्चा. भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने अमित शाह से जुड़े कई तथ्यों पर प्रकाश डाला.

  • Share this:
पटना. क्या आपको मालूम है कि भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah), ना सिर्फ राजनीतिक चाल चलने में माहिर हैं, बल्कि खुद शतरंज (Chess) के अच्छे खिलाड़ी भी हैं? क्या आप जानते हैं कि वे आने वाले वक्त में भाजपा के अच्छे भविष्य की बात क्यों करते हैं? क्या आपको पता था कि अमित शाह ज्योतिष विद्या (Astrology) का भी ज्ञान रखते हैं? जी हां, ऐसे तमाम सवालों के जवाब शनिवार को पटना में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और देश के गृह मंत्री अमित शाह के जीवन पर आई किताब पर परिचर्चा के दौरान मिले. शनिवार को पटना के ज्ञान भवन में 'अमित शाह और भाजपा की यात्रा' (Amit Shah And The March Of BJP) पर परिचर्चा हुई, जिसकी अध्यक्षता पूर्व लोकायुक्त बिहार आरएन प्रसाद ने की. कार्यक्रम में मुख्य वक्ता सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) थे, जबकि विशिष्ट अतिथि के तौर पर बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल मौजूद रहे.

नियमित डायरी लिखते हैं अमित शाह
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पूर्व लोकायुक्त और हाईकोर्ट के सेवानिवृत जज आरएन प्रसाद ने कहा कि 'अमित शाह और भाजपा की यात्रा' पुस्तक में वो सब जानकारी है, जो लोग जानना चाहते हैं. उन्होंने बताया कि अमित शाह को नियमित डायरी लिखने का शौक है और वे शतरंज के अच्छे खिलाड़ी भी हैं. इस मौके पर बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि एक प्रखर राष्ट्रवादी और सरदार पटेल की परंपरा के गृह मंत्री हैं अमित शाह. सुशील मोदी ने बताया कि अमित शाह को ज्योतिष विद्या की भी जानकारी है. अपने बेटे की अंतरजातीय शादी करने वाले अमित शाह ने वर्ष 2006 के बाद विदेश यात्रा नहीं की है. आपको बता दें कि अमित शाह के जीवन और उनके कार्यों को राष्ट्रीय साहित्य प्रचारिणी और लोकवाणी प्रिंटिंग प्रेस के संयुक्त तत्वावधान में ब्लूम्सबरी ने किताब के रूप में प्रकाशित किया है.

Discussion on book Amit Shah And The March Of BJP in Patna-BJP National President
परिचर्चा में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय, बिहार भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी मौजूद थे.


भाजपा को सबसे बड़ी पार्टी बनाने वाला अध्यक्ष
सुशील मोदी ने परिचर्चा में अपने संबोधन के दौरान बताया कि 2014 की लोकसभा चुनाव में भाजपा को यूपी में 73 सीटों पर विजय दिलाने के पीछे अमित शाह की ही कुशल रणनीति थी. अमित शाह ने 11 करोड़ सदस्य बनाकर भाजपा को विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बनाया. मोदी ने कहा कि अपने दौरों के दौरान अमित शाह बिहार के आधे दर्जन जिलों में रात में रुक चुके हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा में पहले अटल और आडवाणी की जोड़ी ने देश को आगे बढ़ाने का काम किया, अब पार्टी में नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी है, जो देश की मजबूती के लिए काम कर रही है. मोदी ने कहा कि अमित शाह और भाजपा की यात्रा अभी रुकेगी नहीं, बल्कि हम इतिहास में ऐसी लकीर खींचेंगे कि आने वाले वर्षों तक देश याद रखेगा.

Discussion on book Amit Shah And The March Of BJP in Patna-BJP National President
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने परिचर्चा में पुस्तक के बारे में बताया.

Loading...

जनसंघ से भाजपा तक को जानने-समझने की किताब
कार्यक्रम में मौजूद गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने पुस्तक को प्रेरणा का स्रोत बताया. उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को ये पुस्तक पढ़नी चाहिए. भाजपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि इस किताब को पढ़ना जनसंघ से लेकर भाजपा तक की यात्रा को जानना है. पुस्तक वास्तव में अमित शाह के जीवन को बताती है. हर व्यक्ति अपनी जिम्मेवारी को किस तरह संभाले, इसे जानने के लिए यह पुस्तक पढ़नी चाहिए. इस मौके पर किताब के लेखक अनिर्बान गांगुली, जो डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी रिसर्च फाउंडेशन के निदेशक हैं और शिवानंद द्विवेदी जो इसी संस्थान के सीनियर रिसर्च फेलो हैं, ने कहा कि ये पुस्तक सिर्फ राजनीतिक कार्यकर्ताओं को ही नहीं, बल्कि देश की जनता को भी पढ़नी चाहिए. परिचर्चा में भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री नागेंद्र जी भी मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें -

धर्मशाला नहीं है हिंदुस्तान, देशहित में NRC लागू करना जरूरी: गिरिराज सिंह

आंदोलन करने सड़क पर उतरेगा देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद का परिवार, ये है वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 16, 2019, 6:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...