Unlock 1.0: मास्क पर लिखा था प्रताड़ना, महिला बोली-पति कर रहा है दूसरी शादी, मेरा घर बचा लीजिए
Patna News in Hindi

Unlock 1.0: मास्क पर लिखा था प्रताड़ना, महिला बोली-पति कर रहा है दूसरी शादी, मेरा घर बचा लीजिए
प्रताड़ना लिखा मास्‍क पहन आयोग पहुंची महिला.

अनलॉक 1.0 (Unlock 1.0) में महिला आयोग खुलने के बाद पीड़ित महिलाएं फिर से न्याय की आस लिए आयोग पहुंचने लगी हैं.

  • Share this:
पटना. आंखों में आंसू और जीवन साथी के धोखे का दर्द. जुबान पर बस एक ही गुहार, पति को दूसरी शादी करने से बचा लीजिए और फिर से मेरा घर बसवा दीजिए. मामला बिहार महिला आयोग (Bihar Women Commission) का है, जहां अनलॉक 1.0 (Unlock 1.0) में महिला आयोग खुलने के बाद पीड़ित महिलाएं फिर से न्याय की आस लिए आयोग पहुंचने लगी हैं. सच कहा जाए तो लॉकडाउन के कारण लंबे इंतजार के बाद पीड़ित महिलाओं के सब्र का बांध टूट गया है.

प्रताड़ना लिखा मास्‍क पहनकर आयोग पहुंची महिला
मामला बिहार के पटना का है, जहां एक पीड़ित महिला मुंह पर लगे मास्क पर प्रताड़ना लिखवा कर महिला आयोग पहुंची ओर वहां अपने खिलाफ हुए प्रताड़ना की शिकायत की. दरअसल, पीड़ित महिला की मानें तो उसका नाम शबीना खातून है और वो छत्तीसगढ़ की रहने वाली हैं. जबकि 26 जनवरी 2019 को बिहार के पटना शहर के सुल्तानगंज के रहने वाले मोहमद शोहेल से उनका प्रेम विवाह हुआ था. शादी के बाद शोहेल अपने ससुराल में ही रहने लगा और मौका देख कर बीते 15 दिसंबर को अपने ससुराल से सारे जेवरात और 60 हजार रुपये लेकर भाग गया, जिसके बाद पीड़िता पति को ढूंढते हुए पटना पहुंची. यहां उसे अपने पति की दूसरी शादी की खबर लगी और इसके बाद महिला ने अपने पति के खिलाफ थाने में एफआईआर कर दी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई.

उधर लॉकडाउन की वजह से वो छत्तीसगढ़ में फंस गई थी और जब लॉकडाउन में थोड़ी ढील मिली तो वह एक बार फिर पटना आई और अपने हक के लिए ससुराल गई जहां 29 मई को पीड़िता से उसके ससुराल वालो ने मारपीट कर दी. यही नहीं, साथ ही उसके गले का हार और कान की बाली छीन ली तो उसके पास जितने पैसे थे वो भी ले लिए.



बहरहाल, महिला की मानें तो अब उसके पास घर वापस जाने के भी पैसे नहीं है और न ही ससुराल वाले रखने को तैयार हैं. वह थाने में कई बार जा चुकी है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. जबकि महिला ने कहा है कि सुसराल वाले इसी महीने उसके पति की दूसरी शादी की तैयारी में हैं जिसके बाद पीड़ित न्याय की आस लिए महिला आयोग पहुंची है.



महिला आयोग ने कही ये बात
महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा ने मामले की गंभीरता को देखते हुए उसके ससुराल वालों को महिला आयोग आने को कहा है. साथ ही वहां के लोकल थाने को भी चिट्ठी लिखी है. इसके अलावा आगे की तारीख तय कर दोनों को उपस्थित होने को कहा है.

ये भी पढ़ें

BJP का बिहार में डिजिटल चुनाव कराने का प्रस्‍ताव JDU को नहीं आया रास
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading