बिहार: 1.38 लाख शिक्षकों की होगी नियुक्ति, TET-STET सर्टिफिकेट की वैधता 2 साल बढ़ी

शिक्षा विभाग के इस फैसले से TET और STET पास 82 हजार छात्रों को फौरी राहत मिल गई है. इसके तहत वर्ष 2011-12 में पास छात्रों को फायदा होने वाला है. ये अभ्यर्थी अब नियुक्ति की प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं.

News18 Bihar
Updated: June 12, 2019, 4:58 PM IST
बिहार: 1.38 लाख शिक्षकों की होगी नियुक्ति, TET-STET सर्टिफिकेट की वैधता 2 साल बढ़ी
बिहार में एक लाख 38 हजार प्राइमरी टीचर की होगी नियुक्ति
News18 Bihar
Updated: June 12, 2019, 4:58 PM IST
बिहार सरकार के शिक्षा विभाग ने बुधवार को दो बड़े फैसले लिए. पहला ये कि प्रदेश के TET और STET सर्टिफिकेट धारकों की वैधता 2 साल के लिए बढ़ा दी गई है. साथ ही प्राइमरी स्कूलों में शिक्षकों की बड़ी संख्या में नियुक्ति करने का भी ऐलान किया है. इसके तहत 1 लाख, 38 हजार शिक्षकों की बहाली की जाएगी.

82 हजार अभ्यर्थियों को फायदा


शिक्षा विभाग के इस फैसले से TET और STET पास 82 हजार छात्रों को फौरी राहत मिल गई है. इसके तहत वर्ष 2011 और 17 में पास छात्रों को फायदा होने वाला है. ये अभ्यर्थी अब नियुक्ति की प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं.

बुधवार को शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आर.के महाजन ने इस फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि STET की डिग्री की वैधता भी 2 साल बढ़ाई गई है. वर्ष 2011 और 2017 में TET उत्तीर्ण 1 लाख 11 हजार 984 उम्मीदवारों के प्रमाणपत्रों की वैलिडिटी मई 2019 में खत्म हो गई थी. विभाग के फैसले के बाद उन सभी के प्रमाणपत्रों की अवधि 2 साल बढ़ाई गई है.

अब ये भी कर सकते हैं अप्लाई
गौरतलब है कि साल 2012 और 2017 में आयोजित TET परीक्षा में 1 लाख 11 हजार 484 अभ्यर्थी पास हुए थे. 2012 में पास हुए 65984 अभ्यर्थियों की वैधता समाप्त मई में ही समाप्त हो गई थी. ऐसे में वे शिक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया में शामिल नहीं हो पाते. यही कारण रहा कि राज्य सरकार ने उनकी वैधता दो साल के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया है.
वहीं 2012 में एसटीईटी पास अभ्यर्थियों की संख्या 16,196 है. इनकी वैधता जून 2019 में खत्म हो रही थी. इनकी वैधता भी बढ़ाई गई है. यानी अब ये लोग शिक्षक नियोजन में आवेदन दे सकते हैं.

Loading...


मिडिल स्कूल के शिक्षकों के लिए जारी होगा शेड्यूल

इसके साथ ही यह भी जानकारी दी गई कि जुलाई महीने में 8वीं कक्षा तक के शिक्षकों को नियोजित करने के लिए शेड्यूल जारी किया जाएगा. वर्तमान में हायर सेकेंडरी में शिक्षकों के नियोजन का पांचवां चरण चल रहा है. अगले महीने यानी जुलाई में छठा चरण शुरू होगा. उसी के साथ प्राइमरी स्कूलों में  भी नियोजन की तारीख घोषित कर दी जाएगी.


(इनपुट- रजनीश)

ये भी पढ़ें-


बिहार: सियासत के सिरमौर रहे लालू परिवार का अवसान काल क्यों आया? पढ़ें 5 वजह




नीतीश सरकार ने भी माना- अब तक 35 बच्चों की हुई मौत, 84 का चल रहा इलाज

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...