पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का निर्वाचन रद्द

निर्वाचन रद्द होने की सूचना मिलते ही दिव्‍यांशु भारद्वाज सहित सैकड़़ों की संख्‍या में छात्र-छात्राएं विश्‍वविद्यालय परिसर में पहुंच चुके हैं और विश्वविद्यालय में तनावपूर्ण माहौल कायम हो गया है.

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 13, 2018, 3:21 PM IST
पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का निर्वाचन रद्द
अध्यक्ष/उपाध्यक्ष
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 13, 2018, 3:21 PM IST
पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ के नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज और उपाध्‍यक्ष योषिता पटवर्धन का निर्वाचन रद्द कर दिया गया है. विश्वविद्यालय की तरफ से इसकी पुष्टि कर दी गई है. दोनों के निर्वाचन को  डिग्री की जांच के विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा रद्द कर दिया गया है.

दोनों के निर्वाचन के बाद से ही उनकी डिग्री को लेकर सवाल उठे थे. निर्वाचन रद्द होने की सूचना मिलते ही दिव्‍यांशु भारद्वाज सहित सैकड़़ों की संख्‍या में छात्र-छात्राएं विश्‍वविद्यालय परिसर में पहुंच चुके हैं और विश्वविद्यालय में तनावपूर्ण माहौल कायम हो गया है.

मामले की गंभीरता को देखते हुए पटना विश्‍वविद्यालय के परिसर में काफी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किये गए हैं. पटना विश्‍वविद्यालय में हुए चुनाव में अध्‍यक्ष पद पर निर्दलीय प्रत्याशी दिव्‍यांशु भारद्वाज अध्‍यक्ष जबकि एबीवीपी की योषिता पटवर्धन उपाध्‍यक्ष पद पर जीते थे.

चुनाव के बाद कई छात्र संगठनों ने इनकी डिग्री को लेकर सवाल उठाये थे. जिसके बाद तीन सदस्‍यीय कमेटी का गठन किया गया था. इस मामले में पीयू छात्र संघ चुनाव के नवनिर्वाचित अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज ने विश्वविद्यालय प्रशासन को दोषी ठहराया. उन्होंने कहा कि  शुरुआत में कागजात की क्यों जांच नहीं की गई और जब मैं निर्वाचित हुआ तो सवाल उठाये जाने लगे.

भारद्वाज ने कहा कि मेरे ऊपर लगे सभी आरोप गलत हैं और अगर निर्वाचन रदद् होता है तो विश्वविद्यालय के ख़िलाफ़ मैं कोर्ट जाउंगा. दोनों निर्वाचित सदस्य सेंट्रल पैनल के सदस्य थे ऐसे में उनका निर्वाचन रद्द होने के बाद अब सेंट्रल पैनल के तीन सदस्य ही कार्य करेंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर