बिहार में होली से ठीक पहले बिजली बिल के टैरिफ में बदलाव की तैयारी, नए दर की घोषणा आज

बिजली विनियामक आयोग ने नए दरों की घोषणा कर दी है. (सांकेतिक फोटो)

बिजली विनियामक आयोग ने नए दरों की घोषणा कर दी है. (सांकेतिक फोटो)

Bihar New Electricity Rate: बिहार में पिछले साल यानी 2020 में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बिजली दरों में 10 पैसे प्रति यूनिट की कमी की गई थी. साथ ही मीटर रेंट को भी खत्म कर दिया गया था.

  • Share this:
पटना. होली से ठीक पहले बिहार विद्युत विनियामक आयोग बिजली के नए दर (Bihar Electricity Rate) की घोषणा करने जा रहा है. नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड और साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड की याचिकाओं पर बिहार विद्युत विनियामक आयोग दर निर्धारण की घोषणा करेगी. लोगों को उम्मीद है कि होली से ठीक पहले बिजली विभाग बिहार वासियों को तोहफा देगा पर देखना होगा कि लोगों को राहत मिलती है या नहीं.

पिछले साल बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बिजली दरों में 10 पैसे प्रति यूनिट की कमी की गई थी. साथ ही लोगो को लगने वाले मीटर रेंट को भी खत्म कर दिया गया था. घरेलू और व्यावसायिक दोनों में लगने वाले दरों में 10 पैसे की कमी की गई थी. पहले मीटर लगाते समय मीटर का शुल्क लिया जाता था. मीटर का हर महीने रेंट लगता था, जिसे विनियामक आयोग ने पिछले साल खत्म कर दिया था.

मौजूदा टैरिफ प्लान के तहत कुटीर ज्योति और डीएस वन का मीटर रहित श्रेणी समाप्त कर दिया गया है. बिजली का फुल फिक्स चार्ज 21 घंटे बिजली के बाद ही चार्ज किया जा रहा. यदि 21 घंटे से कम रही बिजली तो फिक्स चार्ज कम देना होता है. कृषि के लिए फिलहाल बिजली दरों में राहत दी गई है. राइस मिल, कोल्ड स्टोरेज सहित कृषि आधारित उद्योग 33 केवीए पर 500 केवी का कनेक्शन ले सकते हैं जो कि अब तक 1000 केवीए पर चार्ज दिया जाता था. इस प्लान को लेकर कृषि से जुड़े निम्न और कुटीर उद्योग वालों को दिक्कत होती थी जिसे आसान बना दिया गया है.

अब देखना होगा कि शुक्रवार को नए घोषित होने वाले बिजली दरों में क्या बदलाव होता है. क्या होली से पहले बिहार वासियो को दरों में छूट देकर तोहफा दिया जाता है या फिर दरों में बढ़ोतरी कर जेब ढीली की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज