Home /News /bihar /

Bihar: EPFO चलाएगा ई-नामांकन अभियान, 9 लाख कर्मचारियों की पेंशन समेत कई समस्याएं होगी दूर

Bihar: EPFO चलाएगा ई-नामांकन अभियान, 9 लाख कर्मचारियों की पेंशन समेत कई समस्याएं होगी दूर

बिहार में जो भी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के सदस्य हैं वो ऑनलाइन माध्यम से अपना पीएफ भविष्य निधि से क्लेम कर सकते हैं

बिहार में जो भी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के सदस्य हैं वो ऑनलाइन माध्यम से अपना पीएफ भविष्य निधि से क्लेम कर सकते हैं

Bihar News: भविष्य निधि संगठन के द्वारा उन कर्मचारियों के लिए सुविधा के लिए नामांकन का प्रावधान लाया गया है जिसके बाद अब आप अपने भविष्य निधि खाते में किसी का भी नाम जोड़ सकते हैं. साथ ही सेवानिवृत्त (रिटायरमेंट) होने वाले कर्मचारियों को भी ऑनलाइन पेंशन आवेदन करने के लिए नामांकन आवश्यक है

अधिक पढ़ें ...

पटना. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) अपने सदस्यों के लिए ई-नामांकन (E-Registration) अभियान चला रहा है जिससे कि ईपीएफ मित्रों को उनके पेंशन या पैसा भुगतान में अन्य परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े. यह सुविधा ऑनलाइन माध्यम से दी गई है. जो भी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organisation) के सदस्य हैं वो ऑनलाइन माध्यम से अपना पीएफ भविष्य निधि से क्लेम कर सकते हैं. कोविड 19 (Covid 19) महामारी के कारण पीएफ उपभोक्ता का नामांकन नहीं हो पाया था इस कारण से उनके आश्रितों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था.

भविष्य निधि संगठन के द्वारा उन कर्मचारियों के लिए सुविधा के लिए नामांकन का प्रावधान लाया गया है जिसके बाद अब आप अपने भविष्य निधि खाते में किसी का भी नाम जोड़ सकते हैं. साथ ही सेवानिवृत्त (रिटायरमेंट) होने वाले कर्मचारियों को भी ऑनलाइन पेंशन आवेदन करने के लिए नामांकन आवश्यक है.  नामांकन के लिए ईपीएफ कार्यालय के द्वारा लगातार जागरूकता अभियान चलाने की बातें की गई हैं. क्षेत्रीय अधिकारी बृजेश कुमार ने कहा कि अब ईपीएफ भी इससे जुड़े सदस्यों को ही नॉमिनी जोड़ने का फैसला लिया है जिसके तहत सदस्य के मृत्यु पर उनके नॉमिनी को लाभ मिलेगा. वहीं, इसके लिए जन जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत है.

ईपीएफ विभाग के द्वारा अब इसके लिए जन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा. इससे बिहार के नौ लाख सदस्यों को लाभ होगा. पीएफ उपभोक्ता अपने आश्रित का नामांकन दर्ज कर दें जिससे कि उनके न रहने पर उनके आश्रित को पीएफ का लाभ मिल सके. साथ ही उन्हें किसी भी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पड़े और कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़े. ऑनलाइन नामांकन किए जाने के बाद नॉमिनी अपने आधार से पीएफ का पैसा निकाल सकता है. साथ में ईपीएफ उपभोक्ता के देहांत होने के बाद उनको क्लेम करने के लिए कहीं किसी प्रकार की कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा. इसके लिए 31 दिसंबर तक इस अभियान को तेज किया गया है जिससे कि बिहार के भविष्य निधि कर्मचारी को इसका पूरा-पूरा लाभ मिल सके.

Tags: Bihar News in hindi, Employees’ Provident Fund (EPF), Epfo, PATNA NEWS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर