• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar News: करोड़पति कांस्टेबल ने रिश्तेदारों के नाम पर खरीदे थे 5 मकान, 2 दुकान और एक मॉल

Bihar News: करोड़पति कांस्टेबल ने रिश्तेदारों के नाम पर खरीदे थे 5 मकान, 2 दुकान और एक मॉल

पटना में बिहार पुलिस के करोड़पति कांस्टेबल के ठिकानों पर रेड के लिए पहुंची टीम

पटना में बिहार पुलिस के करोड़पति कांस्टेबल के ठिकानों पर रेड के लिए पहुंची टीम

Bihar News: आर्थिक अनुसंधान इकाई के अनुसार धीरज के सेवा काल में 9 करोड़ 47 लाख 66 हजार 745 रुपये की अधिक परिसम्पत्ति अर्जित किये जाने के साक्ष्य अब तक मिले हैं जो उनके वास्तविक आय से लगभग 544 प्रतिशत अधिक है.

  • Share this:

पटना. बिहार पुलिस की आर्थिक अनुसंधान इकाई (EOU Raid In Ara) ने पटना जिला पुलिस बल के जवान और बिहार पुलिस मेंस एसोसिएशन (Bihar Police Association) के प्रांतीय अध्यक्ष कांस्टेबल नरेंद्र कुमार धीरज के 9 ठिकानों पर मंगलवार को एक साथ छापेमारी की. छापेमारी में धीरज के पास करोड़ों की संपत्ति होने का खुलासा हुआ है. फिलहाल आर्थिक अनुसंधान इकाई की छापेमारी पूरी हो गयी है. छापेमारी के बाद जो जानकारी मिली है उसके अनुसार धीरज ने पटना समेत दूसरे जिलों में अपने रिश्तेदारों के नाम पर कई मकान और दुकान बनवा रखे थे. हालांकि पटना(Patna) के महावीर कॉलोनी में नरेंद्र कुमार धीरज ने अपने ही नाम से दो मंजिला आलीशान मकान खरीद रखा था.

इन शहरों में रिशतेदारों के नाम से लिया था मकान
दरअसल, आर्थिक अनुसंधान इकाई को धीरज के विरुद्ध आय से करोड़ों की अधिक संपत्ति होने की शिकायत मिली थी, जिसके बाद ईओयू ने धीरज के खिलाफ सोमवार को आर्थिक अपराध थाना में एफआईआर दर्ज किया था. एफआईआर में धीरज पर स्वयं और अपने परिजनों के नाम पर करोड़ों की अचल संपति अर्जित करने का लगा आरोप लगा था, जिसके बाद जब आज ईओयू की टीम ने धीरज के 9 ठिकानों पर छापेमारी की तो खुलासा हुआ कि वह ज्यादातर संपत्ति अपने परिवार और रिश्तेदारों के नाम पर ही खरीदता था.

मिली जानकारी के अनुसार धीरज ने भाई अशोक कुमार के नाम से अरवल में मकान खरीद रखा था. वहीं एक और भाई सुरेंद्र सिंह के नाम से आरा के कृष्णानगर इलाके में एक चार मंजिला और एक पांच मंजिला मकान बनवा रखा था. जबकि एक दूसरे भाई विजेंद्र कुमार विमल के नाम से आरा शहर में ही एक और पांच मंजिला मकान होने की जानकारी मिली है. धीरज ने आरा में ही एक और भाई श्याम बिहार सिंह के नाम से मॉल सह आवासीय मकान भी खरीद रखा था. इतना ही नहीं भतीजे धर्मेंद्र कुमार के नाम आरा के अनाइठ में एक दुकान भी होने बात सामने आई है. साथ ही भाई सुरेंद्र कुमार सिंह के नाम नारायणपुर में आरा में छड़ सीमेंट की दुकान सह आवास भी धीरज ने बनवा रखा था.

वास्तविक आय से 544 प्रतिशत अधिक संपत्ति की अर्जित
आर्थिक अनुसंधान इकाई के अनुसार धीरज के सेवा काल में 9 करोड़ 47 लाख 66 हजार 745 रुपये की अधिक परिसम्पत्ति अर्जित किये जाने के साक्ष्य अबतक मिले है जो उनके वास्तविक आय से लगभग 544 प्रतिशत अधिक है. तलाशी के क्रम में कई महत्वपूर्ण दस्तावेज, जमीन के निबंधन से जुड़े कागजात, जीवन बीमा की पॉलिसी, बैंक खाता और वाहनों से जुड़े दूसरे दस्तावेज भी बरामद हुए हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज