पंजाब से पकड़ा गया बिहार में अवैध शराब का सबसे बड़ा सप्लायर, ऐसे चलाता था सिंडिकेट

पंजाब से गिरफ्तार हुआ शराब का सप्लायर

पंजाब से गिरफ्तार हुआ शराब का सप्लायर

Illegal Liquor Mafia: पंजाब से गिरफ्तार किया गया धारीवाल शराब कारोबारी हैं वो अपने सहयोगियों के साथ बिहार के विभिन्न जिलों में अवैध शराब की आपूर्ति पिछले कई महीनों से कर रहा था. पुष्पेंद्र सिंह धारीवाल को फ्लाइट से पटना लाया गया.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: February 15, 2021, 10:32 AM IST
  • Share this:

पटना. बिहार की मद्य निषेध इकाई की टीम ने पंजाब के अंबाला से लेवल वन के ठेकेदार पुष्पिंदर सिंह धारीवाल को गिरफ्तार किया है. पुष्पेंद्र सिंह पंजाब के मोहाली के एसएएस नगर का रहने वाला है. इसके पिता का नाम सुरमुख सिंह धारीवाल है जो खुद एक बड़ा शराब कारोबारी (Liquor Mafia) है. दरअसल बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) द्वारा इस बार सत्ता संभालने के बाद बिहार में शराबबंदी कानून को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए पुलिस अधिकारियों के साथ की कई दौर में बैठके हुई हैं.

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को साफ तौर पर निर्देश दे रखा है कि किसी भी सूरत में शराबबंदी कानून को लेकर किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाये. इसी कड़ी में मद्यनिषेध बिहार इकाई की टीम ने मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद एक रणनीति बनाई है. इस रणनीति के तहत बिहार के बाहर के शराब ठेकेदारों और माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू किया गया है .

मद्य निषेध इकाई बिहार की टीम पुष्पेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर प्लेन से पटना लायी. पुष्पेंद्र सिंह और इसका पिता सुरमुख सिंह धारीवाल दोनों मद्य निषेध इकाई के द्वारा मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा थाना कांड संख्या 427 / 9 औरत सारण के माँझी थाना कांड संख्या 48 / 20 में वांछित अभियुक्त है. मद्य निषेध इकाई द्वारा पूछताछ के क्रम में पता चला है कि गिरफ्तार अभियुक्त के पिता सुरमुख सिंह धारीवाल पंजाब के एल वन शराब कारोबारी हैं और अपने पुत्र के अलावा दूसरे सहयोगियों के साथ बिहार के विभिन्न जिलों में अवैध शराब की आपूर्ति पिछले कई महीनों से कर रहे हैं.

सुरमुख सिंह और पुष्पेंद्र सिंह धारीवाल पंजाब में अवैध शराब की आपूर्ति कराने का सिंडिकेट चलाते हैं और बिहार के अलावा गुजरात में भी अवैध शराब का दोनों कारोबार करते रहे हैं. सुरमुख सिंह धारीवाल अवैध शराब की आपूर्ति के मामले में गुजरात पुलिस द्वारा जेल जा चुका है. पुष्पेंद्र सिंह धारीवाल पटना एयरपोर्ट पर लाने के बाद डॉक्टरों की एक टीम ने उसके स्वास्थ्य जांच की और फिर मद्य निषेध इकाई बिहार की टीम ने उसे मुजफ्फरपुर पुलिस को सौंप दिया. मद्य निषेध इकाई की टीम गिरफ्तार पुष्पेंद्र सिंह धारीवाल के पिता की गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत है.
अधिकारियों की मानें तो उसकी भी जल्द ही गिरफ्तारी तय है. इसके पहले भी मद्य निषेध इकाई की टीम ने हरियाणा के सोनीपत से गोपालगंज शराब कांड मामले में वांछित अजीत सिंह उर्फ अजीत जग्गा को गिरफ्तार किया था जिसे गिरफ्तार करने के बाद गोपालगंज पुलिस को सौंप दिया गया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज