होम /न्यूज /बिहार /

बिहार: ड्रोन से भी दो कदम आगे निकला स्निफर डॉग शेरू, 'पाताल' से जब्त कराई 30 हजार लीटर शराब

बिहार: ड्रोन से भी दो कदम आगे निकला स्निफर डॉग शेरू, 'पाताल' से जब्त कराई 30 हजार लीटर शराब

स्निफर डॉग शेरू ने बालू में दबाकर रखे शराब के बारे में पलक झपकते ही पता लगा लिया.

स्निफर डॉग शेरू ने बालू में दबाकर रखे शराब के बारे में पलक झपकते ही पता लगा लिया.

Patna News: पटना से सटे बिदुपुर थाना क्षेत्र के विशनपुर सेड अली दियारा इलाके में स्निफर डॉग शेरू ने कमाल दिखाया. उसकी मदद से बालू के अंदर छिपाकर रखी 30 हजार लीटर अर्धनिर्मित शराब को जब्त किया गया. जिसके बाद मद्य निषेध विभाग की टीम ने जब्त शराब को नष्ट कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

पटना. शराब के धंधेवालों के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत मद्य निषेध विभाग की टीम आज आयुक्त बी कार्तिकेय धनजी की अगुआई में गंगा दियारा इलाके में स्निफर डॉग और ड्रोन के साथ पहुंची थी. मद्यनिषेध विभाग की टीम को इस बात का आभास नहीं था कि स्निफर डॉग प्रशिक्षण के बाद इस कदर शराब को ढूंढ पाने में सफल रहेगा. लेकिन जब स्निफर डॉग मौके पर पहुंचा तो उसने साबित कर दिया कि उसे किस कदर मुकम्मल ट्रेनिंग दी गई है.

पटना से सटे बिदुपुर थाना क्षेत्र के विशनपुर सेड अली दियारा इलाके में स्निफर डॉग शेरू ने बालू के अंदर छिपाकर रखे गए शराब को जब सुंघा तो लगे हाथ कई जगहों पर उसने दबिश दे दी. पीछे-पीछे मद्य निषेध विभाग के पुलिसकर्मी और आगे आगे शेरू, इस पूरी कार्रवाई में मद्य निषेध विभाग की टीम ने फॉर्मेटेड जावा गुड़ से बनाई गई लगभग 30 हजार लीटर अर्धनिर्मित शराब को विनष्ट किया. इसके साथ ही 750 लीटर चुलाई शराब भी नष्ट किया गया.

इस दौरान मद्य निषेध विभाग की टीम ने बनाई गई झोपड़ियों को आग के हवाले कर दिया. मौके से शराब बनाने के 42 उपकरण भी जब्त किए. ड्रोन की मदद से और स्थानीय इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर 27 शराब कारोबारियों की पहचान की गई और उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया.

उत्पाद आयुक्त के साथ मध निषेध विभाग की पूरी टीम नाव के सहारे उन इलाकों में पहुंची जहां पहुंचना आमतौर पर इतना आसान नहीं था. डॉग स्क्वायड टीम के साथ ज्वाइंट कमिश्नर और डिप्टी कमिश्नर भी लगातार भागते रहे और शराब की बरामदगी होती रही. मद्य निषेध विभाग की टीम राघोपुर के अलावा बिदुपुर चांदपुरा ओपी और महनार समेत कई इलाकों में सघन छापेमारी अभियान चलाया. दो दिनों में मद्य निषेध विभाग की टीम ने 50 हजार लीटर से अधिक निर्मित शराब नष्ट करने में सफलता पाई है.

मद्य निषेध विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के निर्देश पर 2 दिनों का विशेष अभियान चलाया गया. 9 फरवरी को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शराबबंदी कानून की समीक्षा करने वाले हैं और ऐसे में इस कार्रवाई को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

Tags: Bihar News, PATNA NEWS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर