FACT CHECK: बिहार पुलिस के DGP गुप्तेश्वर पांडेय देंगे इस्तीफा, लड़ेंगे विधानसभा चुनाव!

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा पर फिलहाल विराम लगाया. (File)
डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अपने विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा पर फिलहाल विराम लगाया. (File)

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले (Sushant Singh Rajput death case) में सुर्खियों में आए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ( DGP Gupteshwar Pandey) ने अभिनेता की मौत पर मुंबई पुलिस की जांच पर कई सवाल उठाए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 7:54 PM IST
  • Share this:

पटना. एक खबर काफी चर्चा में है कि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Bihar DGP Gupteshwar Pandey) अपने पद से इस्तीफा देंगे और विधान सभा चुनाव (Bihar Assembly Election) लड़ेंगे. खबर यह भी है कि वह NDA के उम्मीदवार हो सकते हैं और वे बीजेपी (BJP) के टिकट से खड़े हो सकते हैं. यह बात भी कही जा रही है कि जैसे ही चुनाव की अधिसूचना जारी होगी  गुप्तेश्वर पांडेय इस्तीफा दे देंगे. दरअसल यह खबर इसलिए भी काफी चर्चा में आ गया क्योंकि हाल के दिनों में शिवसेना (Shiv Sena) की तरफ से ये कहा गया था कि वे किसी राजनीतिक दल के लिए काम कर रहे हैं और वे विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं.


गौरतलब है कि फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में सुर्खियों में आए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने अभिनेता की मौत पर मुंबई पुलिस की जांच पर कई सवाल उठाए थे. महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस के द्वारा बिहार के पुलिस अधिकारी एवं जांच टीम के साथ जिस तरह का दुर्व्यवहार किया था इससे डीजीपी काफी आहत थे उन्होंने कई टीवी चैनलों पर इस प्रकरण की आलोचना की थी.


चुनाव लड़ने की खबरों को लेकर जब न्यूज 18 ने डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से पूछा तो उन्होंने कहा कि इस तरह की चर्चा का मैं खंडन करता हूं, यह पूरी तरह अफवाह है. उन्होंने यह भी कहा कि मैं फिलहाल मैं ऑफिस में बैठा हूं और इस तरह की चर्चा बेबुनियाद है. मेरे बारे में इस तरह की अफवाह है लोग 6 माह से फैला रहे हैं, जो आज के तारीख तक सच नहीं है.


हालांकि गुप्तेश्वर पांडेय का राजनीति से लगाव माना जाता है. इस के तर्क में वे कहते हैं कि राजनीति से ही न्यायपालिका है, विधायिका है, संविधान है और देश है. लोकतंत्र हमारे देश के लिए अभीष्ट है और चुनाव लोकतांत्रिक प्रक्रिया है. जाहिर है यह कहकर उन्होंने राजनीति में आने की खबरों को पूरी तरह खारिज भी नहीं किया है. उन्होंने कहा, अगर कोई इस्तीफा देकर राजनीति में आए तो क्या गुनाह है? उन्होंने कहा कि भविष्य में कुछ भी हो सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज