शराबबंदी कानून के तहत पटना में पहली सजा, दोषियों को मिली 10-10 साल की सजा

हमीदा खातून और रामचंद्र सिंह को 2016 में पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र से सेक्स रैकेट और शराबंदी कानून के तहत गिरफ्तार किया गया था.

News18 Bihar
Updated: May 18, 2018, 4:42 PM IST
शराबबंदी कानून के तहत पटना में पहली सजा, दोषियों को मिली 10-10 साल की सजा
पटना सिविल कोर्ट
News18 Bihar
Updated: May 18, 2018, 4:42 PM IST
बिहार में पूर्ण शराबबंदी कानून के तहत शुक्रवार को पटना जिले में पहली सजा हुई. पटना के स्पेशल कोर्ट ने हमीदा खातून और रामचन्द्र सिंह को 10-10 वर्ष की कैद और एक-एक लाख जुर्माना लगाया है. नये शराबबंदी कानून की धारा 30 के तहत अदालत ने सजा सुनाई है.स्पेशल एक्साइज जज रमेश चंद्र मालवीय ने सजा सुनाई.

हमीदा खातून और रामचंद्र सिंह को 2016 में पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र के पीसी कॉलोनी से सेक्स रैकेट और शराबंदी कानून के तहत गिरफ्तार किया गया था.इस मामले में पांच लोगों को अभियुक्त बनाया गया था जिसमें से दो अभियुक्त दीपक कुमार और प्रियंका सिंह अभी भी फरार हैं. प्रियंका सिंह पश्चिम बंगाल की रहने वाली है. मकान मालिक के खिलाफ जांच जारी है.

इससे पहले जुलाई 2017 में बिहार में शराबबंदी कानून लागू होने के बाद पहली सजा जहानाबाद जिला अदालत ने दो सगे भाइयों को पांच-पांच साल कैद और एक एक लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई थी.

29 मई 2017 को उत्पाद विभाग की टीम ने दोनों भाईयों को शहर के पूर्वी उंटा मोहल्ले से गिरफ्तार किया था. मेडिकल जांच में दोनो के शराब पीने की पुष्टि हुई थी. आपको बता दें कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी अप्रैल 2016 से लागू है. ( पटना से क्रांति कुमार की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-

शराबबंदी में पहली सजा, दो भाइयों को 5-5 साल की कैद
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Bihar News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर