पहली बारिश में ही तालाब बना पटना का सरकारी अस्पताल, वार्ड में तैरती दिखीं मछलियां

डॉक्टर ने राज्य सरकार से मेडिसिन विभाग का नया भवन निर्माण किए जाने की मांग की है. गौरतलब है कि पिछले वर्ष अगस्त महीने में भारी बारिश होने पर अस्पताल के मेडिसिन विभाग के वार्ड में घुटने भर पानी का जलजमाव हो गया था.

News18 Bihar
Updated: July 8, 2019, 4:58 PM IST
पहली बारिश में ही तालाब बना पटना का सरकारी अस्पताल, वार्ड में तैरती दिखीं मछलियां
पटना के सरकारी अस्पताल में तैरती मछली
News18 Bihar
Updated: July 8, 2019, 4:58 PM IST
राजधानी पटना में हुई बारिश ने एक बार फिर से स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं. पिछले मॉनसून में आईसीयू में मछली तैरने वाली घटना को फिर से ताजा कराती हुईं तस्वीरें सामने आईं और इस बार भी मछलियों ने अस्पताल को ही अपना आशियाना बना लिया.

पटना में हो रही है लगातार बारिश
दरअसल पटना सिटी में बीते देर रात हुई झमाझम बारिश से अगमकुआं स्थित राजधानी पटना के दूसरे सबसे बड़े अस्पताल एनएमसीएच के मेडिसिन वार्ड में एक बार फिर से पानी घुस गया, जिससे अस्पताल में भर्ती मरीज और उनके परिजनों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा.

नाला बना कारण

अस्पताल का भूमिगत नाला एनएमसीएच के पिछवाड़े स्थित बड़े नाला से जुड़ा होने के कारण अस्पताल के मेडिसिन वार्ड में मछलियां तैरने लगीं. अस्पताल में भर्ती मरीज के परिजनों द्वारा मामले की जानकारी अस्पताल प्रशासन को दिए जाने के बाद संप हाउस की मदद से 1 घंटे के अंदर वार्ड में हुए जलजमाव को निकाल दिया गया.

पटना के एनएमसीएच में जमा पानी


नीचा है बेसमेंट
Loading...

गौरतलब है कि अस्पताल का मेडिसिन विभाग का भवन काफी पुराना होने के कारण इसका बेसमेंट काफी नीचा है, ऐसे में भारी बारिश होने पर बारिश का पानी वार्ड में घुस जाता है. मॉनसून को देखते हुए एक पखवारा पूर्व अस्पताल प्रशासन द्वारा मेडिसिन विभाग के आईसीयू को सर्जरी विभाग के आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया था.

खोले गए संप हाउस
मेडिसिन विभाग के वार्ड में होने वाले जल जमाव को देखते हुए अस्पताल प्रशासन द्वारा संप हाउस में एक अतिरिक्त मोटर की भी व्यवस्था की गई है. इस दौरान अस्पताल में तैनात चिकित्सकों ने भी माना कि पुराना भवन का बेसमेंट काफी नीचा होने के कारण बारिश के दिनों में जलजमाव की समस्या बनी रहती है.

डॉक्टर्स ने की ये मांग
डॉक्टर ने राज्य सरकार से मेडिसिन विभाग का नया भवन निर्माण किए जाने की मांग की है. गौरतलब है कि पिछले वर्ष अगस्त महीने में भारी बारिश होने पर अस्पताल के मेडिसिन विभाग के वार्ड में घुटने भर पानी का जलजमाव हो गया था. विभाग के आईसीयू में भी पानी घुस गया था, जिससे भर्ती मरीज और उनके परिजनों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था.

रिपोर्ट- मनोज सिन्हा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 4:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...