बाढ़ की तबाही: उत्तर बिहार के 8 जिलों की 3 लाख आबादी अभी भी 'जल प्रलय' की चपेट में
Kishanganj News in Hindi

बाढ़ की तबाही: उत्तर बिहार के 8 जिलों की 3 लाख आबादी अभी भी 'जल प्रलय' की चपेट में
बिहार में बाढ़. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bihar Flood: बाढ़ ने सबसे अधिक बिहार के दरभंगा जिला को प्रभावित किया है. यहां के 1 लाख 58 हजार लोग बाढ़ से प्रभावित हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 20, 2020, 10:51 AM IST
  • Share this:
पटना. नेपाल समेत उत्तरी बिहार के कई जिलों में लगातार हो रही बारिश से बिहार में बाढ़ का कहर लगातार जारी है. बाढ़ की चपेट में बिहार के 8 जिले आ गए हैं. इन जिलों की बात करें तो यहां की 3 लाख से अधिक की आबादी फिलहाल बाढ़ से प्रभावित है. बिहार के बाढ़ प्रभावित जिलों में सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज और पूर्वी चंपारण शामिल है. इन 8 जिलों के 37 प्रखंड के 153 पंचायत फिलहाल पूरी तरह से बाढ़ की चपेट में है.

बाढ़ ने सबसे अधिक बिहार के दरभंगा जिला को प्रभावित किया है. यहां के 1 लाख 58 हजार लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. बिहार सरकार द्वारा बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए राहत शिविर भी चलाए जा रहे हैं, जहां लोगों के रहने और खाने की व्यवस्था है. बारिश के बीच उत्तर बिहार में नदियों के पानी में उतार-चढ़ाव का खेल जारी है, तो गंगा के जलस्तर में भी वृद्धि दर्ज की गई है. बिहार में गंगा नदी का बक्सर से लेकर भागलपुर तक जलस्तर बढ़ता जा रहा है. फरक्का में गंगा नदी खतरे के निशान से 12 सेंटीमीटर ऊपर है.

गंगा का बढ़ते जलस्तर से छोटी नदियों में भी इसका पानी प्रवेश कर रहा है. बक्सर में ठोरा नदी, पटना में पुनपुन नदी समेत कई नदियां जो गंगा में मिलती है उसमें पानी का दवाब बढ़ने लगा है. उत्तर बिहार की गंडक, बूढ़ी गंडक, बागमती भी लगातार अपने तेवर दिखा रही हैं. मुजफ्फरपुर में बूढ़ी गंडक के कारण शहर के कई इलाकों पर पानी का दबाव बढ़ गया है.राज्य में आधा दर्जन नदियां लाल निशान से ऊपर ही बह रही हैं. बागमती दरभंगा, सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर में अब भी खतरे के निशान से ऊपर है. सबसे अधिक परेशानी उत्तर बिहार के उन जिलों में है जहां लगातार बारिश हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading