Home /News /bihar /

Bihar Flood: गंगा ने छोड़ा अपना रौद्र रूप, पटना-मुंगेर में तेजी से घटने लगा बाढ़ का पानी

Bihar Flood: गंगा ने छोड़ा अपना रौद्र रूप, पटना-मुंगेर में तेजी से घटने लगा बाढ़ का पानी

गंगा का जलस्तर घटने से बिहार के लोग राहत की सांस ले रहे हैं.

गंगा का जलस्तर घटने से बिहार के लोग राहत की सांस ले रहे हैं.

Patna Flood News: राजधानी पटना के दीघा घाट में बुधवार को गंगा 47 सेंटीमीटर नीचे उतर गई थी. हालांकि, अभी वह खतरे के निशान से 38 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है. गांधी घाट पर गंगा 44 सेंटीमीटर नीचे उतरी है, लेकिन यहां यह खतरे के निशान से अब भी 102 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. राजधानी पटना मैं गंगा जिस तेज रफ्तार से चढ़ी, उससे 3 गुना से भी अधिक रफ्तार से  नीचे उतरने लगी है. वैसे तो इलाहाबाद से बक्सर तक गंगा खतरे के निशान से नीचे उतर गई है, लेकिन पटना से फरक्का तक अभी यह खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. बुधवार को इसका जलस्तर मुंगेर तक गिरने लगा. भागलपुर में अभी वैसे तो गंगा बढ़ रही है, लेकिन अच्छी बात यह है कि पुनपुन पटना में लाल निशान से नीचे आ गई है और सोन नदी भी तेजी से उतर रही है. उत्तर बिहार की दूसरी नदियां अभी खतरे के निशान से काफी ऊपर हैं.  कोसी कटिहार और खगड़िया में खतरे के निशान से 1 मीटर से अधिक ऊपर बह रही है. गंडक भी लगभग 1 महीने से गोपालगंज में खतरे के निशान से ऊपर ही बनी हुई है.

राजधानी पटना के दीघा घाट में बुधवार को गंगा 47 सेंटीमीटर नीचे उतर गई थी. हालांकि, अभी वह खतरे के निशान से 38 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है. गांधी घाट पर गंगा 44 सेंटीमीटर नीचे उतरी है, लेकिन यहां यह खतरे के निशान से अब भी 102 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है. हाथीदह में भी गंगा 19 सेंटीमीटर नीचे उतरी है और खतरे के निशान से 152 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है.

गंगा के नीचे उतरने का क्रम मुंगेर में भी शुरू हो चुका है. मुंगेर में गंगा 11 सेंटीमीटर नीचे उतरकर खतरे के निशान से 71 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है. भागलपुर में गंगा 5 सेंटीमीटर बढ़कर करीब 118 सेंटीमीटर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. कहलगांव में खतरे के निशान से गंगा 154 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है. फरक्का में यह नदी खतरे के निशान से 167 सेंटीमीटर ऊपर है. पटना के मनेर की बात करें तो यहां सोन नदी खतरे के निशान से मात्र 34 सेंटीमीटर ऊपर  है. पुनपुन 54 सेंटीमीटर नीचे उतर गई है और खतरे के निशान से 13 सेंटीमीटर नीचे बह रही है.

जहां तक उत्तर बिहार की बात है तो कोसी गंडक बागमती और कमला समेत उत्तर बिहार की नदियों में जलस्तर का उतार-चढ़ाव लगातार जारी है. बुधवार को कोशी का डिस्चार्ज बराह क्षेत्र में 1 लाख 28000 और बराज पर  1 लाख 89000 क्यसेक रहा है. यह नदी खगड़िया में लाल निशान से 135 सेंटीमीटर जब भी कटिहार में 181 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है.

गंडक का डिस्चार्ज वाल्मीकि नगर बराज पर 1 लाख 42 हजार क्यूसेक है और गोपालगंज में गंडक खतरे के निशान से लगभग 44 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है. दूसरी नदियों में बागमती की बात कर ले तो मुजफ्फरपुर में यह 116 सेंटीमीटर शिवहर में छह और दरभंगा में 36 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है बूढ़ी गंडक खगड़िया में 230 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है.

आपके शहर से (पटना)

Tags: Bihar flood, Bihar News, PATNA NEWS, River Ganga

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर