सुशांत सिंह राजपूत केस में सुर्खियों में रहे थे गुप्तेश्वर पांडेय, रिया से लेकर मुंबई पुलिस और BMC तक पर साधा था निशाना

सुशांत के साथ गुप्तेश्वर पांडेय (फाइल फोटो)
सुशांत के साथ गुप्तेश्वर पांडेय (फाइल फोटो)

गुप्तेश्वर पांडेय (DGP Gupteshwar Pandey) ने कहा था कि रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी से खुश या नाखुश होने का मेरा कोई व्यक्तिगत कारण नहीं है. मैं बस ये चाहता हूं कि सच सामने आए. सुशांत की मौत का जो रहस्य है उसके ऊपर से पर्दा उठना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 8:21 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार के चर्चित आईपीएस अधिकारी और डीजीपी रहे गुप्तेश्वर पांडेय (DGP Gupteshwar Pandey) ने अपने सेवाकाल में ही वीआरएस ले लिया है. रिटायरमेंट के पांच महीने पहले डीजीपी की कुर्सी छोड़ने वाले इस अधिकारी की राजनीति और बिहार विधानसभा चुनाव में इंट्री तय मानी जा रही है. 1987 बैच के IPS अधिकारी गुप्तेश्वर पांडेय अपनी पुलिसिंग के लिए खास तौर पर जाने जाते थे. डीजीपी के रूप में उनका कार्यकाल सुशांत सिंह राजपूत केस (SSR Death Case) में दिखाई गई तत्परता के लिए भी जाना जाएगा.

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में पटना में हुई एफआईआर के बाद डीजीपी अपने एक्शन और बयानों को लेकर सुर्खियों में आए थे. एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमयी मौत के मामले में पटना में एफआईआर दर्ज हुई थी. इस एफआईआर के दर्ज होने के बाद डीजीपी के निर्देश पर ही बिहार पुलिस की टीम को जांच के लिए वहां भेजा गया था लेकिन बीएमसी ने मुंबई पहुंचते ही बिहार के आईपीएस विनय तिवारी को क्वारंटीन कर दिया था.

इस मामले में गुप्तेश्वर पांडेय ने अपनी बातों को बेबाक तरीके से सबके सामने रखा था और कई बार वो खुलकर मीडिया के सामने आए थे. डीजीपी ने अपने अधिकारी को क्वारंटीन किए जाने को लेकर बीएमसी पर सवाल भी खड़े किए थे. उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत को बिहार का बेटा बताते हुए इस केस की सीबीआई जांच की अनुशंसा होने से पहले तक काफी शानदार तरीके से केस की जांच करवाई थी.




डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने इस मौत के मामले में मुंबई पुलिस की जांच पर भी कई सवाल उठाए थे. दरअसल महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस द्वारा बिहार से जांच के लिए मुंबई गए पुलिस अधिकारियों एवं जांच टीम के साथ जिस तरह का दुर्व्यवहार किया गया था इससे डीजीपी काफी आहत थे. उन्होंने इस बात को कई टीवी चैनलों पर रखने के साथ ही पूरे प्रकरण की सोशल मीडिया के माध्यम से भी आलोचना की थी.

बिहार के पूर्व डीजीपी ने रिया चक्रवर्ती की ड्रग्‍स मामले में गिरफ्तारी पर भी प्रतिक्रिया दी थी और कहा था कि आगे देखते रहिये कुछ और अहम बातें सामने आएंगी. गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा था कि रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी से खुश या नाखुश होने का मेरा कोई व्यक्तिगत कारण नहीं है. मैं बस ये चाहता हूं कि सच सामने आए. सुशांत की मौत का जो रहस्य है उसके ऊपर से पर्दा उठना चाहिए. ये चीजें उसमें पहला कदम है. उन्होंने कहा कि NCB को सबूत मिला उन्होंने कारवाई की.  लोग धैर्य रखें समय आएगा तब बहुत कुछ बातें सामने आएंगी. दुनिया देख रही है, पूरा देश देख रहा है, जो भी लोग इसमें होंगे उनके खिलाफ कारवाई होगी. गुप्तेश्वर पांडेय की बिहार के युवाओं के बीच इनकी बड़ी फैन फॉलोइंग है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज