पप्पू यादव के निशाने पर करणी सेना, बोले- मधुबनी हत्याकांड के बहाने बिहार में उन्माद फैला रहे बाहरी

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव (File Photo)

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव (File Photo)

Madhubani Murder: जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव ने कहा कि समाज को बांटने वाले दलों पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए, फिर चाहे वो करणी सेना हो, बजरंग दल हो या कोई अन्य संगठन.

  • Share this:
पटना. मधुबनी गोलीकांड को लेकर पूर्व सांसद और जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने सरकार और विपक्ष पर निशाना साधा है. पूर्व सांसद ने कहा कि सरकार और विपक्ष बिहार को नफरत की आग में झोंकना चाहते हैं. पप्पू ने कहा कि नरसंहार (Madhubani Murder Case) के बाद बिहार में बाहर से आए करणी सेना (Karani Sena) के लोगों ने समाज में उन्माद फैलाने की कोशिश की जो कि बिहार कभी बर्दाश्त नहीं करेगा. हम अपनी समस्याओं को हल करना जानते हैं.

पप्पू यादव ने कहा कि जन अधिकार पार्टी सभी दोषियों को कड़ी सजा दिलवाएगी. जिन लोगों ने बिहार में अराजकता फैलाई है, उन्हें माफ नहीं किया जा सकता है. समाज को बांटने वाले दलों पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए, फिर चाहे वो करणी सेना हो, बजरंग दल हो या कोई अन्य संगठन. पप्पू यादव ने कहा कि बिहार सरकार कमजोर है, जिसके कारण उपद्रवी संगठन प्रदेश को अशांत बनाए हुए हैं. उन्होंने कहा कि प्रवीण झा की जाति नहीं देखनी चाहिए. वह एक अपराधी है और उसे सजा मिलनी चाहिए. यह एक जघन्य घटना है और इसके लिए माफी नहीं मिल सकती. जन अधिकार पार्टी के प्रमुख ने कहा कि इस घटना की सीबीआई से जांच करानी चाहिए. एक स्पेशल कोर्ट की स्थापना कर स्पीडी ट्रायल हो और तीन महीने के अंदर दोषियों को सजा मिले.

पूर्व सांसद ने बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि तेजस्वी यादव समेत पूरा विपक्ष मधुबनी गोली कांड को जातिय रंग देने में लगा हुआ है. जाति कार्ड खेलकर वो समाज में उन्माद फैलाना चाहते हैं और अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकना चाहते हैं, लेकिन हम उन्हें उनके मकसद में कामयाब नहीं होने देंगे. सरकार से आग्रह करते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि मृतक के किसी परिजन को सरकारी नौकरी मिले और उनकी पांचों बेटियों के नाम पर 50-50 लाख रुपये जमा कराया जाना चाहिए. पटना के पारस अस्पताल में भर्ती छठे जख्मी पीड़ित की स्थिति गंभीर है. सरकार जल्द उन्हें एम्स में भर्ती कराए. जाप ने उनके इलाज के लिए दो लाख रुपये की मदद की है.

रिपोर्ट- धर्मेंद्र कुमार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज