बिहार चुनाव 2020: ललन सिंह बोले- राजद में भगदड़ मची है, बैरियर खोल देंगे तो पार्टी खत्म हो जाएगी
Patna News in Hindi

बिहार चुनाव 2020: ललन सिंह बोले- राजद में भगदड़ मची है, बैरियर खोल देंगे तो पार्टी खत्म हो जाएगी
जेडीयू कार्यालय में मिलन समारोह.

हाल में आरजेडी से जेडीयू (RJD to JDU) में आने वाले प्रमुख चेहरों में विधायक प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव, अशोक कुमार, चंद्रिका राय, फराज फातमी, जयवर्धन यादव हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 29, 2020, 3:31 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के मद्देनजर दलबदल का दौर जारी है. इसी क्रम में राजद (RJD) के राष्ट्रीय सचिव रह चुके हर्षवर्धन (Harshvardhan) जेडीयू में शामिल हो गए. इसके साथ ही पूर्व DG सुनील कुमार ने भी जेडीयू ज्वाइन किया है. इन दोनों ही नेताओं को जेडीयू संसदीय दल के नेता ललन सिंह (Lalan Sing) ने पार्टी कार्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल करवाया. इस मौके पर ललन सिंह ने कहा कि राजद में भगदड़ मची है, बैरियर खोल देंगे, तो पार्टी खत्म हो जाएगी. राजद के तमाम नेता पार्टी छोड़ने की तैयारी में हैं कब कौन आएगा इसका इंतजार है.

ललन सिंह ने तेजस्वी यादव को टारगेट करते हुए कहा कि सबसे तेज तो तेजस्वी हैं. बिहार में कोरोना का टेस्ट सबसे ज़्यादा बिहार में हो रहा है, क्या तेजस्वी को पता नहीं है ? ललन सिंह ने कहा कि अभी चुनाव का समय है, इसलिए बाढ़, कोरोना की बात की जा रही. टिकट भी बांटना है, माल पत्र बनाने का समय है. अगर बोलेंगे नहीं, तो टिकटार्थी कैसे आएंगे. टिकट बांट लेने दीजिये, फिर देखिये, चुनाव में क्या होगा, ये वो भी जानते हैं.

इस मौके पर हर्षवर्धन ने कहा कि राजद जब परिवार की पार्टी होती गई तो हमारे जैसे कार्यकर्ता के लिए राजद में रहना मुश्किल था. नीतीश जी सबके लिए काम करने वाले नेता हैं. उनके साथ काम करना शान की बात है. वहीं, पूर्व DG सुनील कुमार ने कहा कि मैंने तीन दशक से ज़्यादा बिहार पुलिस में रह कर बिहार की जनता के लिए काम किया है. इस दौरान कभी किसी के साथ भेदभाव नहीं किया. जब मुझे जेडीयू से ऑफ़र मिला
मैंने तुरंत हामी भर दी.
पूर्व डीजी ने कहा कि नीतीश जी के साथ काम करना इज्जत की बात है. उनके साथ मैंने लम्बे समय के साथ काम किया है. नीतीश जी ने कभी लॉ एंड ऑर्डर के साथ समझौता नहीं किया.  इस मौके पर ललन सिंह ने कहा कि सुनील जी लम्बे समय तक पुलिस की सेवा में रहे,  पद पर रहते हुए उन्होंने निष्ठा से काम किया है. अब सुनील जी बिहार समाज सेवा का काम करना चाहते हैं.  सुनील जी की इच्छा थी जेडीयू के लिए काम करें. सुनील कुमार के चुनाव लड़ने पर बोले ललन सिंह ने कहा कि ये पार्टी तय करेगी जब चुनाव होगा देखा जाएगा.



ललन सिंह ने इस दौरान राजद को भी अपने निशाने पर लिया और कहा कि वह समाज सेवा की पार्टी नहीं है बल्कि  धन अर्जन करने वाली पार्टी है. हमारे साथ आगे भी राजद के लोग शामिल होंगे. राजद में भगदड़ के हालात हैं. इंतज़ार कीजिए बहुत जल्द  बहुत कुछ देखने को मिलेगा. चुनाव के बाद उनकी पार्टी कोई नाम लेवा नहीं बचेगा.

ललन सिंह ने बिहार में दलित सियासत पर कहा कि जितना दलितों के लिए नीतीश जी ने काम किया उतना किसी ने नहीं किया है. इसके पहले भी जिनका शासन था उस सरकार में दलितों का हाल क्या था, किसी से छिपा हुआ है क्या? नीतीश कुमार को किसी जाति का कार्ड खेलने की ज़रूरत नहीं है. मेरे परिवार का राजनैतिक ग्राउंड रहा है, लेकिन मै नीतीश जी के काम करने की शैली की वजह से राजनिति में आया हूं.

आरजेड़ी से जेडीयू में आने वाले प्रमुख चेहरों में विधायक प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव, अशोक कुमार, चंद्रिका राय, फराज फातमी, जयवर्धन यादव हैं. इससे पहले पांच एमएलसी राजद के दिलीप राय, राधा चरण सेठ, संजय प्रसाद ,कमरे आलम और रणविजय सिंह ने पहले राजद छोड़ जदयू का दामन थाम लिया है. वहीं जदयु से आरजेडी जाने वाले प्रमुख चेहरे में श्याम रजक, जावेद इकबाल अंसारी के नाम शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज