लाइव टीवी

RJD में महिलाओं के प्रतिनिधित्‍व पर हाय तौबा, राष्‍ट्रीय महासचिव के बयान के बाद डैमेज कंट्रोल में जुटी पार्टी

Sanjay Kumar | News18 Bihar
Updated: November 27, 2019, 10:44 PM IST
RJD में महिलाओं के प्रतिनिधित्‍व पर हाय तौबा, राष्‍ट्रीय महासचिव के बयान के बाद डैमेज कंट्रोल में जुटी पार्टी
पार्टी में आधी आबादी की हकमारी हो रही है- कांति सिंह

राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janata Dal) की राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांति सिंह (Kanti Singh) ने पार्टी फोरम में सीनियर नेताओं की मौजूदगी में आधी आबादी यानी महिलाओं के अधिकारों को लेकर अपनी आवाज बुलंद कर सनसनी फैला दी. जबकि पार्टी के नये अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह (Jagdanand Singh) भी उनकी बात का समर्थन करते नजर आए.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 27, 2019, 10:44 PM IST
  • Share this:
पटना. क्या राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janata Dal) में आधी आबादी यानी महिलाओं के प्रतिनिधित्व पर संकट है? यह सवाल हम नहीं उठा रहे है बल्कि खुद राजद की राष्ट्रीय महसाचिव और पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांति सिंह (Kanti Singh) ने इस मामले पर पार्टी फोरम में नाराजगी जाहिर कर सनसनी फैला दी है. पार्टी के सीनियर नेताओं की मौजूदगी में कांति सिंह ने कहा कि पार्टी के अंदर आधी आबादी का अधिकार वे हर हाल में हासिल करके रहेंगी. जबकि उनके तेवर के बाद पार्टी नेता अब डैमेज कंट्रोल में जुट गए हैं, तो पार्टी के नये अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह (Jagdanand Singh) ने उनकी बात का समर्थन किया है. यही नहीं, जब उन्‍होंने नाराजगी जाहिर की तब सूबे के पूर्व मुख्‍यमंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) भी मंच पर मौजूद थे.

कांति सिंह को ये बात नहीं आई पसंद
बुधवार को पटना के विधापति भवन में राजद के नवगठित राज्य परिषद की पहली बैठक में सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था, तभी अचानक राजद की राष्ट्रीय महासचिव कांति सिंह ने पार्टी के अदंर आधी आबादी के हक पर सवाल खड़ा कर सनसनी फैला दी. दरअसल, कार्यक्रम में पार्टी के नये प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह की ताजपोशी होनी थी और कार्यक्रम में काफी संख्या में राजद विधायक भी पंहुचे थे. जबकि विधायकों को सदन में भाग लेना था और ऐसे में मंच संचालक ने यह घोषणा कर दी कि समयाभाव के कारण अब केवल नये अध्यक्ष जगदानंद ही बोंलेगे.

हालांकि वह शायद यह भूल गये कि अभ तक जिन नेताओं ने सभा को संबोधित किया उनमें सभी के सभी पुरूष थे. ऐसे में मंच पर बैठी कांति सिंह को यह घोषणा रास नहीं आयी. उन्होंने मंच से ही नाराजगी जाहिर कर दी और कहा कि पार्टी में आधी आबादी की हकमारी हो रही है. वे हर हाल में सभा को संबोधित करेंगी और ऐसा किया भी. डायस पर आने के बाद भी कांति सिंह रूकी नहीं और पार्टी नेताओं को दो टूक शब्दो में चेतावनी लहजे में कहा कि आधी आबादी अपना हक हर हाल में लेकर रहेगी.

राजद के नये अध्‍यक्ष ने कही ये बात
राजद के नये प्रदेश अध्यक्ष बने जगदानंद सिंह ने कांति सिंह के तेवर भांप लिए, लिहाजा उन्होंने उनकी (कांति सिंह) उपस्थिति की महता जाहिर करने में कोई देर नहीं की. प्रदेश अध्‍यक्ष ने कहा कि वे एकमात्र राष्ट्रीय स्तर की नेता हैं जो इस कार्यक्रम में शिरकत कर रही हैं.

डैमेज कंट्रोल में जुटी पार्टी
Loading...

उधर पार्टी के दूसरे नेता कांति सिंह के बयान के बाद डैमेज कंट्रोल करने में लग गए हैं. न्‍यूज़ 18 के सवाल पर राजद नेता आलोक मेहता राष्ट्रीय महासचिव कांति सिंह की मांग को अपने ढंग से समझाते नजर आए. उनका कहना था कि इस तरह की बातों से ही आधी आबादी के हित में कारगकर कदम उठाया जाता रहा है. यह पहला मौका है जब राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की अनुपस्थिति में आधी आबादी के सवाल पर सार्वजनिक रुप से नाराजगी जाहिर की गई है. वैसे जिस पार्टी ने बिहार में पहली महिला मुख्‍यमंत्री दी हो, उस पार्टी में आधी आबादी का हक मारने का सवाल उठना अच्‍छी बात नहीं है.

ये भी पढ़ें-
पटना पुलिस ने जब्‍त की 4 करोड़ से अधिक की ब्राउन शुगर, 3 तस्‍कर भी हुए गिरफ्तार

पूर्णिया में खुला बिहार का पहला बाल मित्र थाना, ये है खासियत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 10:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...