Home /News /bihar /

frauds did cheating of 35 crore rupees behalf of admission in medical colleges bramk

मेडिकल में एडमिशन के नाम पर पटना में 35 करोड़ की ठगी, कॉलेज पहुंचे छात्र तो हुआ खुलासा

बिहार में मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन के नाम पर करोड़ों की ठगी हुई है (सांकेतिक चित्र)

बिहार में मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन के नाम पर करोड़ों की ठगी हुई है (सांकेतिक चित्र)

Medical College Admission Fraud: पटना में सक्रिय इस गिरोह ने मेडिकल लेजों में एडमिशन के नाम पर करोड़ों की ठगी के दौरान बिहार से झारखंड तक के लोगों को अपना शिकार बनाया है. इस गैंग ने पटना के पॉश इलाके में दफ्तर खोल रखा था. अभी तक 22 लोगों ने अपने साथ ही ठगी की घटना की शिकायत पटना पुलिस से के समक्ष दर्ज करवाई है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार की राजधानी पटना में नीट में कम अंक लाने वाले अभ्यर्थियों से मनचाहे मेडिकल कॉलेज में दाखिला दिलाने का झांसा देकर करीब 35 करोड़ की ठगी का सनसनीखेज मामला सामने आया है. बोरिंग रोड चौराहे के पास एक मॉल में करियर काउंसलिंग का कार्यालय खोलकर जालसाजों ने भारी भरकम राशि उगाही की और फर्जी एडमिशन का लेटर देकर छात्रों को बकायदा कॉलेज भी भेज दिया. जब छात्र कॉलेज पहुंचे तब उन्हें अपने ठगे जाने का एहसास हुआ. ठगी की जानकारी होने पर जब छात्र लौट कर आए तब कार्यालय बन्द मिला.

इस पूरे मामले को लेकर पटना के एसके पुरी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है. पुलिस की मानें तो सभी आरोपी फिलहाल फरार हैं और उनके नाम और पते की जानकारी ली जा रही है. मिली जानकारी के अनुसार करियर काउंसलिंग संस्थान के निदेशक उज्जवल सिंह ठगी का सरगना है. उज्जवल सिंह खुद को कई मेडिकल कॉलेजों में पार्टनर बता रहा था. उसका दावा था कि एनआरआई कोटे से अभ्यर्थियों का नामांकन करा देगा. उसने झांसा देने के लिए अभ्यर्थियों और उनके अभिभावकों के सामने विदेश के नंबरों पर कॉल तक कर डाला और सामने वाले व्यक्ति को एनआरआई बता कर उनसे पासपोर्ट की कॉपी तक मंगा लेता था.

उसकी बातों से झांसे में आकर लोग उसे 15 से 25 लाख रुपए तक देने से नहीं हिचक रहे थे. उज्जवल के अलावा ब्रांच हेड शुभम कुमार, अर्पण सिंह, काउंसलर कुंदन कुमार, हीरालाल, खुशबू कुमारी और रंजन कुमार के खिलाफ केस दर्ज करा दिया गया है. अब तक 22 लोग शिकायत पुलिस में दर्ज करा चुके हैं जिनकी 35 करोड़ की राशि जालसाजों ने हड़प ली है. इस बात की संभावना है कि ठगी की यह राशि और बढ़ेगी.

ठगी के शिकार होने वालों में भागलपुर की कंचन कुमारी, रांची के राजेश सिन्हा, औरंगाबाद के सुधीर रंजन, रोहतास के श्याम बिहारी सिंह, दानापुर पटना के सुलेखा चौबे, दरभंगा के विकास कुमार ने लिखित आवेदन पटना पुलिस को दिया है. ठगी के शिकार हुए लगभग सभी लोग 6 महीने से इस करियर काउंसलिंग संस्थान से जुड़े हुए थे. करीब 20-25 रोज पहले सभी को एक साथ अलग-अलग कॉलेजों में नामांकन पत्र दिए गए. इसके बाद इसे लेकर सभी कॉलेज भी गए तो उन्हें अपने नामांकन पत्र के फर्जी होने की जानकारी मिली.

Tags: Bihar News, State Medical College

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर