आरजेडी के घोषणा पत्र में भी सवर्ण आरक्षण को नहीं मिली जगह, तेजस्वी ने दी ये सफाई

राजद के घोषणा पत्र मेें जिन चीजों का जिक्र किया गया है, उनमें ताड़ी से लेकर आरक्षण और जातिगत आधार पर जनगणना कराने की बात कही गई है.

News18 Bihar
Updated: April 8, 2019, 2:41 PM IST
आरजेडी के घोषणा पत्र में भी सवर्ण आरक्षण को नहीं मिली जगह, तेजस्वी ने दी ये सफाई
राजद का घोषणा पत्र
News18 Bihar
Updated: April 8, 2019, 2:41 PM IST
राष्ट्रीय जनता दल ने लोकसभा चुनाव को लेकर अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. पार्टी ने अपने मैनिफेस्टो को प्रतिबद्धता पत्र का नाम दिया है. पटना स्थित पार्टी कार्यालय में पार्टी के वरीय नेता और लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने इसे जारी किया. राजद के घोषणा पत्र में सामाजिक न्याय की बात तो की गई है लेकिन इस घोषणा पत्र से सवर्ण आरक्षण गायब है.

ये भी पढ़ें- RJD का घोषणा पत्र जारी, हर थाली में रोटी और 7वीं पास को पुलिस भर्ती में मौका देने का वादा

आरजेडी के घोषणा पत्र में सवर्ण आरक्षण को जगह नहीं देने पर जब तेजस्वी यादव से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हमने सवर्ण आरक्षण का विरोध नहीं किया है लेकिन आरजेडी चाहती है कि जातीय जनगणना के आधार पर ही आरक्षण की व्यवस्था हो. राजद दलितों और पिछड़ों को आबादी के अनुसार आरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है, साथ ही हम अल्पसंख्यकों की सुरक्षा के लिए भी प्रतिबद्ध हैं.

ये भी पढ़ें- हड़ताल पर गए बिहार के जूनियर डॉक्टर्स, स्वास्थ्य सेवाओं पर गहराया संकट

उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय और विरोधी मानसिकता का हम लगातार विरोध कर रहे हैं और करेंगे. पार्टी सरकार में आई तो 2021 में जातीय जनगणना सुनिश्चित की जाएगी. उन्होंने पार्टी के घोषणा पत्र का हवाला देते हुए कहा कि अगर हम सरकार में आए तो ग्रामीण क्षेत्रों में भूमिहीनों को 6 से 10 डिसमिल जमीन दी जाएगी. साथ ही निजी क्षेत्र के नौकरियों में दलितों अत्यंत पिछड़ा अल्पसंख्यकों और अन्य गरीबों के आरक्षण को सुनिश्चित करेंगे.

ये भी पढ़ें- कन्हैया बोले- जेल से निकलते ही तय किया था कि पीएम की आंखों में आंख डालकर सवाल पूछूंगा

पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा कि राष्ट्रीय रोजगार गारंटी प्रोग्राम का पूरे भारत के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में विस्तार किया जाएगा. हर राज्य के हिसाब से कम से कम 150 दिन का न्यूनतम वेतन पर व्यस्त व्यक्ति को मिलेगा. इस मौके पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हम सामाजिक न्याय की दिशा में मंजिल हासिल करेंगे. उस लक्ष्य को हासिल करेंगे, जिसे बाबा साहब  आंबेडकर ने दिया था और मेरे पिता लालू प्रसाद ने गरीबों की भलाई के लिए देखा था.
Loading...

ये भी पढ़ें- नीतीश ने किया तंज- 'लालटेन' के दिन पूरे तो लालू बोले- 'पलटुओं का सरदार'

राजद के घोषणा पत्र मेें जिन चीजों का जिक्र किया गया है उनमें ताड़ी से लेकर आरक्षण और जातिगत आधार पर जनगणना कराने की बात कही गई है. घोषणा पत्र में राजद ने बिहार में अपनी सरकार बनने पर ताड़ी को लीगल करने की बात कही है. साथ ही पुलिस भर्ती में 7वीं और 8 वीं क्लास लोगों की भी ली जाएगी. इस दौरान उन्होंने तेजप्रताप यादव पर कुछ भी बोलने से मना किया और कहा कि आज सिर्फ मैनिफेस्टो पर करूंगा बात.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 8, 2019, 10:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...