अयोध्या विवाद: गिरिराज सिंह बोले- 100 करोड़ लोगों के सब्र का इम्तेहान न लें, मंदिर के सिवा कुछ मंजूर नहीं

नवादा के सांसद ने कहा कि शिया मुसलमानों की तरह सुन्नी मुसलमान आगे आएं और अयोध्या में प्रभु रामचंद्र का मंदिर बनाएं,

News18 Bihar
Updated: March 8, 2019, 3:43 PM IST
अयोध्या विवाद: गिरिराज सिंह बोले- 100 करोड़ लोगों के सब्र का इम्तेहान न लें, मंदिर के सिवा कुछ मंजूर नहीं
गिरिराज सिंह की फाइल फोटो
News18 Bihar
Updated: March 8, 2019, 3:43 PM IST
अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एक बार फिर से सियासत तेज हो गई है. बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के सिवा कुछ भी मंजूर नहीं. उन्होंने कहा कि मध्यस्थता कोई और नहीं बल्कि शिया भाइयों की तरह सुन्नी आगे आकर करें और मंदिर बनाएं क्योंकि भारत के मुसलमान बाबर की औलाद नहीं. इसके साथ ही गिरिराज ने कहा कि 100 करोड़ हिन्दुओं के सब्र का इंतिहान ना लें.

ये भी पढ़ें- अयोध्या विवाद : विवाद सुलझाने के लिए मध्यस्थता पैनल गठित, आठ हफ्ते में सौंपेगा रिपोर्ट



कोर्ट के फैसले के जवाब में गिरिराज ने कहा कि मुझे कोर्ट पर कोई टिप्पणी नहीं करना है. पहले भी मध्यस्थता की पहल की गई थी और परिणाम सबके सामने है. नफरत करने वालों ने तो पाकिस्तान बना लिया ऐसे में मुस्लिम अब क्यों जिद कर रहे हैं. भारत के मुसलमान बाबर की संतान नहीं हैं और मध्यस्थता का एक अच्छा अवसर है.

नवादा के सांसद ने कहा कि शिया मुसलमानों की तरह सुन्नी मुसलमान आगे आएं और अयोध्या में प्रभु रामचंद्र का मंदिर बनाएं, सांप्रदायिक सद्भावना कायम करें. गिरिराज ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के सिवा कुछ भी मंजूर नहीं साथ ही ये भी पूछा कि त्रिपुंडधारी राहुल गांधी चुप क्यों हैं.

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2019: सीट बदली तो सही वरना नवादा में फंस सकती है गिरिराज सिंह की नैया

1947 में कांग्रेसियों, नेहरू ने देश का विभाजन कर नफ़रत की दीवार खड़ी की. गिरिराज ने पूछा कि वेटिकन सिटी में ईसाई और मक्का-मदीना में मुसलमान किसी और निर्माण के लिए तैयार होंगे ? जामा मस्जिद में शिव मंदिर बनाया जाए तो मुस्लिम भाई तैयार होंगे.

इनपुट- दिवाकर तिवारी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार