बिहार से अच्छी खबर: राज्यभर में 10, 926 मरीजों ने कोरोना को दी मात तो पटना में एक्टिव केस में आई गिरावट

बिहार में अब कोविड को मात देने वाले लोगों की संख्या सामने आना शुभ संकेत माना जा रहा है.

बिहार में अब कोविड को मात देने वाले लोगों की संख्या सामने आना शुभ संकेत माना जा रहा है.

Bihar Covid 19 Update: अस्पतालों पर बढ़ते दवाब को देखते हुए पटना जिला प्रशासन ने शुक्रवार से बिहटा के ईएसआईसी अस्प्ताल में डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर खोलने का फैसला लिया है. अब ईएसआईसी में 150 मरीजों का इलाज हो सकेगा.

  • Share this:
पटना. बिहार में जहां कोरोना मरीजों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि हो रही है वहीं गुरुवार की शाम 24 घंटे में सर्वाधिक 10, 926 मरीजों ने कोरोना को मात दे दी. वहीं, राजधानी पटना में एक्टिव केस की संख्या में पहले की अपेक्षा कमी आई है. बता दें कि राज्य में एक बार फिर 13089 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है और एक्टिव मरीजों की संख्या लाख के पार यानि 100821 पहुंच गई है. वहीं पटना में जहां कुल 2186 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. पटना में एक्टिव केसेज की संख्या घटकर 15540 पर पहुंच गई है.

वहीं, गया में 1128, पूर्णिया में 483, वेस्ट चम्पारण में 590, सुपौल में 416, समस्तीपुर में 494, सारण में 451, कटिहार में 357, सुपौल में 416, मुजफ्फरपुर 478, सहरसा में 398, बेगूसराय में 666, भागलपुर में 305 कोरोना मरीज मिले. इस बीच अस्पतालों पर बढ़ते दवाब को देखते हुए जिला प्रशासन ने शुक्रवार से बिहटा के ईएसआईसी अस्प्ताल में डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर खोलने का फैसला लिया है.

दरअसल राज्य सरकार डीआरडीए के इंतजार में थी कि सेना के डॉक्टर 500 बेड पर कोविड केयर सेंटर शुरू कर पाएंगे, लेकिन डीआरडीए ने महज 50 बेड पर इलाज करने की सहमति दी और फिलहाल 50 बेड पर ही इलाज हो रहा है. पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह और एसएसपी उपेन्द्र शर्मा गुरुवार को खुद बिहटा पहुंचे जहां बैठक कर फैसला लिया कि शुक्रवार से जिला प्रशासन अतिरिक्त 100 बेड पर कोविड डेडिकेटेड केयर सेंटर चलाएगी. यानि अब बिहटा ईएसआईसी में 150 मरीजों का इलाज हो सकेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज