लाइव टीवी

नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, पटना में इस दिन से नहीं चलेंगे डीजल वाले ऑटो

News18 Bihar
Updated: November 6, 2019, 2:03 PM IST
नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, पटना में इस दिन से नहीं चलेंगे डीजल वाले ऑटो
नीतीश सरकार ने पटना को प्रदूषण की समस्या से निजात दिलाने के लिए डीजल से चलने वाले ऑटो पर रोक लगाने का फैसला किया है

कैबिनेट की बैठक में पटना नगर निगम, दानापुर, फुलवारी शरीफ, खगौल, दानापुर नगर परिषद में 15 साल से ज्यादा पुराने सभी कमर्शियल वाहनों के परिचालन को तात्कालिक प्रभाव से प्रतिबंध लागू करने की भी मंजूरी दी गई है.

  • Share this:
पटना. बिहार सरकार (Bihar Government) ने प्रदूषण (Pollution) की समस्या खत्म करने के लिए बड़ा फैसला लिया है. नीतीश सरकार (Nitish Government) ने कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting) के दौरान वर्ष 2021 से पटना (Patna) में डीजल ऑटो (Diesel Auto) के परिचालन पर रोक लगा दिया है. ये फैसला 31 जनवरी, 2021 से लागू होगा. फैसला लागू होने के बाद पटना में डीजल ऑटो (Auto Rickshaw) पर पूरी तरह से बैन हो जाएगा. इसके साथ ही 31 मार्च, 2021 से पटना से सटे दानापुर, फुलवारी, खगौल नगर परिषद में भी ऐसे ऑटो के परिचालन पर बैन रहेगा. कैबिनेट की बैठक में बिहार स्वच्छ इंधन योजना 2019 को मंजूरी दी गई.

2021 से चलेंगी CNG और बैट्री वाली गाड़ियां

इस बैठक में फैसला लिया गया कि साल 2021 से CNG और बैट्री वाले ऑटो ही पटना समेत आसपास के इलाकों में चलेंगे. कैबिनेट की बैठक में कुल 12 एजेडों पर मुहर लगी. नीतीश कैबिनेट ने इसके साथ ही पटना नगर निगम, दानापुर, फुलवारी शरीफ, खगौल, दानापुर नगर परिषद में 15 साल से ज्यादा पुराने सभी कमर्शियल वाहनों के परिचालन को तात्कालिक प्रभाव से प्रतिबंध की मंजूरी दी है. बता दें कि हाल ही में पटना को देश का तीसरा सबसे प्रदूषित शहर पाया गया था. इस आंकड़े के आने के बाद सरकार ने आनन-फानन में बैठक बुलाई थी.

बोर्ड कर्मियों के DA में भी वृद्धि

कैबिनेट के अन्य फैसले में निगम और बोर्ड के कर्मियों का डीए बढ़ाने का भी फैसला लिया गया. इसके तहत छठा वेतनमान पा रहे बोर्ड निगम के कर्मियों का DA बढ़ाकर 154 फीसदी से 164 फीसदी कर दिया गया है. कैबिनेट की बैठक में विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष त्रिपुरारी प्रसाद सिंह कि जयंती हर साल 6 अक्टूबर को राजकीय समारोह के रूप में मनाने, 50 कनीय अभियंता यांत्रिक के नियोजन के साथ कनीय अभियंता असैनिक के 150 पदों पर नियोज की भी स्वीकृति दी गई.

ये भी पढ़ें- अपनी ही सरकार के फैसले के विरोध में उतरे बिहार के मंत्री, RJD ने किया समर्थन

नक्सल प्रभावित जिले के इन दो एथलीटों ने नेशनल चैंपियनशिप में जीता गोल्ड मेडल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 1:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...