होम /न्यूज /बिहार /सरकार ने कहा- नॉनवेज का कोरोना से कोई कनेक्शन नहीं, जमकर खाईए चिकेन-मटन

सरकार ने कहा- नॉनवेज का कोरोना से कोई कनेक्शन नहीं, जमकर खाईए चिकेन-मटन

मामले की जानकारी देते बिहार सरकार के अधिकारी

मामले की जानकारी देते बिहार सरकार के अधिकारी

बिहार सरकार के कृषि सचिव एन सरवण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक् ...अधिक पढ़ें

पटना. कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से लगे लॉकडाउन (Lockdown) के कारण अगर आप मांसाहारी होकर भी मांस-मछली का सेवन नहीं कर पा रहे हैं तो आपकी चिंता अब दूर हो गई है. बिहार के पशुपालन विभाग ने बक़ायदा प्रेस कांफ़्रेंस कर ये साफ़ कर दिया है कि मांस, मछली, मटन हो या अण्डा इसका सेवन करिए. कोरोना और बर्ड फ्लू (Bird Flu) की वजह से डरने की कोई ज़रूरत नहीं है.

लॉकडाउन से बाहर रहेंगे कृषि और पशुपालन क्षेत्र

बिहार सरकार के कृषि सचिव एन सरवण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये जानकारी देते हुए बताया कि कृषि और पशुपालन क्षेत्र लॉकडाउन से बाहर रहेंगें. मांस-मछली की दुकानें खुली रहेंगी. पशुओं के चारा और कृषि से जुड़े हुए सामग्री के लाने ले जाने पर रोक नहीं रहेगी. कोरोना वायरस का संक्रमण मांस मछलियों से जुड़ा हुआ नहीं है. उन्होंने बताया कि भारतीय पॉल्ट्री अभी खाने के लिए सुरक्षित हैं ऐसे में कोरोना संक्रमण के दौरान मांस मछली खाने में कोरोंना संक्रमण का कोई संबंध नहीं है.

व्हाट्सएप के माध्यम से फैलाया जा रहा अफवाह

सरवन ने बताया कि भारतीय खाद्य संरक्षण एवं मानक प्राधिकरण ने ये रिपोर्ट दी है. 100 डिग्री के ऊपर खाना बनाने पर कोई भी वायरस बैक्टीरिया नहीं जिंदा रह पाता बल्कि 70 डिग्री पर ही सभी वायरस और बैक्टीरिया मर जाते हैं. सरवन ने बताया कि व्हाट्सएप ग्रुप पर जो भ्रांतियां फैलाई जा रही हैं खाल कर मांस मछलियों को कोरोना से जोड़कर वो गलत है.

कृषि कार्य के लिए किसानों को मिलेगी छूट

कृषि को लेकर भी महत्वपूर्ण जानकारी देते हुए सचिव ने बताया कि गेहूं की फसल कटने का समय हो गया है ऐसे में कृषि से जुड़े हुए काम लॉकडाउन से बाहर हैं और किसानों को फसल काटने की छूट है. इसके लिए किसानों को सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं जिसमें सोशल डिस्टेंस मेंटेन कर काम करना है. किसानों के पुआल जलाने पर भी राज्य सरकार काफी गंभीर है. कोई भी किसान फसल अवशेष को ना जलाएं इसको लेकर सभी जिलाधिकारियों को भी निर्देश दिया गया है.

गेहूं के खरीदारों को भी मिलेगी छूट

कृषि विभाग के सचिव ने बताया कि खाद बीज और कृषि यंत्र के दुकानों को पूरी तरह से छूट दी गई है. गेहूं खरीदने के लिए भी बाहर से आने कि लोगों को छूट दी जाएगी. इसके लिए जिलाधिकारी गाड़ियों को विशेष परमिशन देंगे. सचिव ने बताया कि सुधा के दूध सहित तमाम सामग्री दुकान अब रात आठ बजे तक खुले रहेंगे साथ ही मांस-मछली का दुकानें भी खुली रहेंगी मगर वहां पर सोशल डिस्टेंस को मेंटेन करना होगा. कृषि सचिव ने बताया कि बरसात के कारण रबी की फसल को हुए नुकसान का अनुदान दिया जा रहा है इसके लिए किसानों से आवेदन लिया जा रहा है. अनुदान देने के लिए 18 अप्रैल तक आवेदन देने का समय दिया गया है. ऐसा लॉकडाउन के कारण हो रही लोगों को परेशानी के कारण किया गया है.

ये भी पढ़ें- आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टर बनकर जा घुसे दो युवक, कोरोना पॉजिटिव का खिलाई दवा

ये भी पढ़ें- Lockdown के दौरान अगर आपको नहीं मिल रही मछली, तो इन नंबरों पर करें शिकायत

Tags: Bihar News, Corona, Lockdown, PATNA NEWS

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें