लाइव टीवी

गांधी मैदान में ऐसा क्या हुआ जो आंसू पोछते नजर आए राज्यपाल फागू चौहान...
Patna News in Hindi

Neel kamal | News18 Bihar
Updated: January 26, 2020, 3:12 PM IST
गांधी मैदान में ऐसा क्या हुआ जो आंसू पोछते नजर आए राज्यपाल फागू चौहान...
गांधी मैदान में राज्यपाल फागू चौहान अपने आंसू पोछते हुए.

राज्यपाल फागू चौहान (Fagu Chauhan) ने शहीद की मां को सेना मेडल के साथ राज्य सरकार द्वारा दिया जाने वाला प्रशस्ति पत्र भी सौंपा.

  • Share this:
पटना. गणतंत्र दिवस (Republic Day 2020) के अवसर पर पटना के गांधी मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस दौरान राज्यपाल फागू चौहान (Fagu Chauhan) ने झंडोत्तोलन किया और परेड की सलामी ली. इस दौरान ऐसा भावुक क्षण भी आया जब एक शहीद की मां अपने बेटे को मरणोपरांत मिले सेना मेडल को लेने पहुंची. जैसे ही खगड़िया के रहने वाले शहीद किशोर कुमार मुन्ना (Kishor Kumar Munna) की मां तुलो देवी राज्यपाल फागू चौहान के निकट पहुंचीं तो आंखों में आंसू लिए वह राज्यपाल के कदमों पर गिर पड़ीं. इस भावुक पल के दौरान राज्यपाल भी भावुक हो गए और अपने आंसू पोछते नजर आए.

इस दौरान राज्यपाल ने शहीद की मां को उठाया और उन्हें सेना मेडल के साथ राज्य सरकार द्वारा दिया जाने वाला प्रशस्ति पत्र और राज्य सरकार की ओर से दी जाने वाली राशि का चेक सौंपा.

कौन था शहीद जवान किशोर कुमार मुन्ना
खगड़िया निवासी आर्मी जवान किशोर कुमार मुन्ना 4 फरवरी को पुंछ बॉर्डर पर पाकिस्तानी फौज के साथ मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल हो गए थे. उन्‍हें पुंछ स्थित आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन 24 वर्षीय जवान किशोर कुमार मुन्ना आखिरकार जिन्दगी देश के नाम न्योछावर कर दी. वह पाकिस्तानियों से तो जीत गए, लेकिन मौत की जंग हार गए.

शहीद किशोर कुमार मुन्ना की मां को सम्मान राशि का चेक व प्रशस्ति पत्र देते हुए राज्यपाल फागू चौहान


खगड़िया जिले के चौथम थाना क्षेत्र अंतर्गत ब्रह्मा गांव के किसान नागेश्वर प्रसाद यादव को पुत्र किशोर कुमार मुन्ना के शहीद होने होने की खबर मिली. पूरे ब्रह्मा गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया था. शहीद के पिता नागेश्वर प्रसाद यादव ने बताया कि वर्ष 2013 में उनका छोटा बेटा किशोर कुमार मुन्ना की बहाली आर्मी में हुई थी. जून 2018 में शहीद किशोर कुमार मुन्ना का ट्रांसफर कश्मीर के पुंछ सेक्टर में हुआ था.

झंडोत्तोलन के बाद राज्यपाल ने ली परेड की सलामी71वें गणतंत्र दिवस के मौके पर पटना के गांधी मैदान में बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने झंडोत्‍तोलन किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित कई अन्य गणमान्‍य लोग मौजूद रहे. गणतंत्र दिवस पर इस बार 17 झांकियों के द्वारा बिहार के विकास को दिखाया गया.

कई साल बाद काफी समय बाद गांधी मैदान में सेना गणतंत्र दिवस पर आयोजित परेड समारोह का नेतृत्व किया. परेड में 19 टुकड़ियों ने भाग लिया. जिसमें आर्मी, CRPF, SSB, ITBP, CISF, STF, BMP, NCC, ARMY, AIRFORCE, NAVY (NCC), जिला सशस्त्र बल, पुरुष महिला, होमगार्ड ग्रामीण, होमगार्ड शहरी, बिहार स्काउट, बिहार गाइड, स्वान दस्ता की छह यूनिट, फायर ब्रिगेड, NDRF और SDRF की एक कंपनी ने भाग लिया.

बिहार के विकास को दर्शाती 17 झांकियां
गांधी मैदान में 17 झांकियों के माध्यम से भविष्य का पीएमसीएच, 'नीचे मछली, ऊपर बिजली' योजना सहित जल जीवन हरियाली, वर्षा जल संचयन, मौसम के अनुसार कृषि कार्यक्रम आदि विषय पर झांकियां प्रदर्शित की गई. गांधी मैदान में निकाली गई 17 झांकियों में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद को प्रथम स्थान मिला तो उपेन्द्र महारथी शिल्प अनुशंधान संस्थान, उद्योग विभाग दूसरे और स्वास्थ्य विभाग की झांकी ज्यूरी द्वारा तीसरे स्थान पर चुनी गई. इस मौके पर सैनिकों को सेना मेडल और सेना में विशिष्ट सेवा मेडल भी राज्यपाल द्वारा दिए गए.

ये भी पढ़ें

बिहार में कानून का राज स्थापित रखना राज्य सरकार की प्राथमिकता- राज्यपाल

लालू के 'ब्रह्म बाबा' खुद को RJD का 'मुख्य अतिथि' क्यों मानने लगे?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 1:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर