बिहार के राज्यपाल बोले- छेड़खानी की शिकायत सीधे राजभवन में करें महिलायें

राज्यपाल ने कहा कि महिलाओं के साथ छेड़खानी की शिकायत पहले राजभवन में होगी उसके बाद थाने में.

Rupesh Kumar | News18 Bihar
Updated: June 14, 2018, 5:18 PM IST
बिहार के राज्यपाल बोले- छेड़खानी की शिकायत सीधे राजभवन में करें महिलायें
कार्यक्रम का उदघाटन करते राज्यपाल
Rupesh Kumar | News18 Bihar
Updated: June 14, 2018, 5:18 PM IST
बिहार के कॉलेजों की छात्राएं अब छेड़खानी की शिकायत सीधे राजभवन कर सकेंगी. इसकी घोषणा खुद राज्यपाल सत्यपाल मल्लिक ने की. पटना में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान गवर्नर ने कहा कि राजभवन में कुछ अधिकारियों को इसके लिए नियुक्त किया गया है.

राज्यपाल ने कहा कि महिलाओं के साथ छेड़खानी की शिकायत थाने में बाद में पहले राजभवन में होगी. कोई भी महिला राजभवन में 24 घंटे में कभी भी फोन कर सकती है. राजभवन में कुछ टेलिफोन लाइन्स लगाये जा रहे हैं और खास तौर पर कुछ अधिकारियों की नियुक्ति की जा रही है. राजभवन के ये अधिकारी खुद जाकर महिला की ना सिर्फ सहाय़ता, बल्कि एफआईआर वगैरह दर्ज कराएंगे.

छात्र संवाद में राज्यपाल ने कहा कि हर कक्षा में अब सीसीटीवी कैमरे लगाये जाएंगे और शिक्षक भी अब हर वक्त राजभवन की नजर में होंगे. उन्होंने कहा कि शिक्षकों को अब ना सिर्फ बायोमिट्रिक मशीन में हाजिरी लगानी होगी, बल्कि उनकी हर कक्षा पर सीसीटीवी के माध्यम से राजभवन की नजर रहेगी.

शिक्षक क्या पढ़ा रहे हैं, पढ़ा भी रहें हैं या नहीं, ये सब राजभवन की निगरानी में रहेगा. बिहार के कुलाधिपति ने पटना में आयोजित छात्र संवाद में कहा कि एक साल के अंदर इसकी व्यवस्था पूरी कर ली जाएगी. राज्यपाल ने कहा कि हर कॉलेज के छात्रों और शिक्षकों को अपनी महिला सहकर्मियों और छात्राओं का सम्मान करना होगा.

छात्र संवाद में बतौर विशिष्ट अतिथि पहुंचे बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने छात्रों से कहा कि देश को नरेन्द्र मोदी और नीतीश कुमार जैसे इमानदार नेता चाहिए. वहीं उन्होंने विरोधियों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राजनीति को धनार्जन का जरिया समझने वाले नेताओं की जरूरत देश को नहीं है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर