बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाए केंद्र-जीतनराम मांझी
Patna News in Hindi

बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाए केंद्र-जीतनराम मांझी
बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने इशारों में एक बार फिर मुख्यमंत्री बनने की इच्छा जताई है.

मांझी ने कहा, प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति चिंताजनक है और CM नीतीश से शासन संभल नहीं रहा है. ऐसे में बिहार की बेहतरी के लिए केंद्र सरकार प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाए.

  • Share this:
बिहार में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम यानि चमकी बुखार और बिगड़ती कानून व्यवस्था के मुद्दे पर हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ने धरना दिया. इसमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी भी शामिल हुए और इन दोनों मुद्दों पर सरकार को विफल करार दिया. उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे को पूरी तर फेल करार दिया और उनसे इस्तीफा मांगा. मांझी ने कहा कि अगर वे इस्तीफा नहीं देते तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस्तीफा दें.

'केंद्र लगाए राष्ट्रपति शासन' 

मांझी ने इसके साथ ही बिहार में राष्ट्रपति शासन की मांग उठाई है. मांझी ने कहा, प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति चिंताजनक है और CM नीतीश से शासन संभल नहीं रहा है. ऐसे में बिहार की बेहतरी के लिए केंद्र सरकार प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाए.



'शासन और स्वास्थ्य व्यवस्था चौपट' 
मांझी ने कहा, बिहार की स्वास्थ्य व्यस्था पूरी तरह चौपट हो गई है और अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं, ऐसे में वर्तमान सरकार को एक पल रहने का अधिकार नहीं है.

राज्यपाल को सौंपेगा ज्ञापन

इस बीच पार्टी का प्रतिनिधि मंडल राज्यपाल से भी मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपेगा. इसमें प्रदेश में राष्ट्रपति शासन की मांग की जाएगी. बता दें कि बिहार में इन दोनों ही मुद्दों पर विपक्ष हमलावर है और सरकार बचाव की मुद्रा में है.

इनपुट- रवि एस नारायण

ये भी पढ़ें-

बिहार: इस 5 वजहों से बीजेपी अपने नेता मंगल पांडे को नहीं करेगी 'शहीद'

हाईटेंशन तार की चपेट में आई बस, 4 यात्रियों की मौत, 24 घायल

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading