रामनवमी: लगातार दूसरे साल बगैर भक्तों के पटना के महावीर मंदिर में हो रही पूजा

पटना का हनुमान मंदिर (फाइल फोटो)

पटना का हनुमान मंदिर (फाइल फोटो)

Ram Navami Puja 2021: राजधानी पटना स्थित हनुमान मंदिर में हर साल रामनवमी के मौके पर तीन से चार लाख श्रद्धालु आते हैं, लेकिन पिछले दो सालों से कोरोना संक्रमण के कारण ये व्यवस्था फिलहाल स्थगित कर दी गई है.

  • Share this:
पटना. चैती नवरात्र (Navratri 2021) का बुधवार को नौवां दिन है और 21 अप्रैल को ही रामनवमी (Ram Navami) भी है. देश-दुनिया में भागवान श्री राम (Lord Sri Ram) और हुनमान की पूजा अर्चना की जा रही है. इधर, बिहार के सुप्रसिद्ध महावीर मंदिर (Patna Mahaveer Mandir) में भी हर साल की तरह पूरे विधि-विधान के साथ भागवान महावीर और श्रीराम समेत सभी देवी देवताओं की सोमवार को पूजा होगी. महावीर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया है कि दोपहर तकरीबन 12 बजे दिन में महावीर हनुमान, श्रीराम और सभी देवी देवताओं को नये वस्त्र धारण कराए जाएंगे. महावीर मंदिर में तीनों स्थानों पर लगे ध्वज बदले जाएंगे. मुख्य ध्वज पूजा सामने प्रांगण में स्थित ध्वज के पास होगी जिन भक्तों ने ध्वजारोहण की रसीद कटाई है, उनके नाम और गोत्र आदि के संकल्प के साथ कार्यालय के पास निर्धारित स्थान पर नए ध्वज लगाए जाएंगे. राम जन्मोत्सव मनाया जाएगा और दोपहर 12 बजे आरती होगी.

रात्रि में होगा हवन, नहीं दिखेंगी लंबी कतारें

आचार्य किशोर कुणाल के मुताबिक महावीर मन्दिर के 300 साल के इतिहास में इस बार लगातार दूसरे साल भक्त मन्दिर में दर्शन नहीं कर सकेंगे. लाॅकडाउन के कारण पिछले वर्ष कलश स्थापन भी नहीं हो सका था. रामनवमी के दिन मन्दिर में दर्शन के लिए हरेक साल आनेवाले तीन से चार लाख श्रद्धालुओं को इस बार भी निराशा होगी. सन् 1720 से 1730 के बीच स्वामी बालानन्द द्वारा स्थापित ऐतिहासिक महावीर मन्दिर में रामनवमी में दर्शन के लिए कई किलोमीटर लंबी कतार लगती है.

मिल रहा है नैवेद्यम
महावीर मन्दिर का विशेष प्रसाद नैवेद्यम भक्तों को मिल रहा है. नैवेद्यम काउंटरों पर नैवेद्यम सुबह से शाम सात बजे तक उपलब्ध है. नवरात्रि में भक्तों के नाम गोत्र आदि के संकल्प के साथ पूजा कर नैवेद्यम और सिन्दूर की होम डिलीवरी की ऑनलाइन बुकिंग भी की जा रही है. बताते चलें कि महावीर न्यास के तरफ से भक्तों के लिए की गई ऑनलाइन व्ययवस्था के तहत भक्तजन ऑनलाइन (गुगल पे नंबर 9334467800 के जरिए पेमेंट के बाद 9334468401 पर व्हाट्सएप सन्देश करके) नैवेद्यम सुबह से ही अपने घर मंगवा रहे हैं.

आचार्य किशोर कुणाल की अपील का दिख रहा है असर 

आचार्य किशोर कुणाल पिछले कई दिनों से हनुमान के भक्तों से अपील कर रहे थे कि कोविड 19 के गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए रामनवमी के दिन भक्त महावीर मंदिर नहीं आएं. इसका असर आज दिख रहा है. महावीर हनुमान के लाखों लाख भक्त अपने घर बैठे ही ऑनलाइन जियो टीवी पर अपने रामलला और उनके सबसे प्रिय हनुमान का दर्शन कर रहे हैं.



रामनवमी में महावीर मंदिर में आते थे 3 से 4 लाख श्रद्धालु

गौरतलब है कि रामनवमी के दिन महावीर मंदिर में हर साल 3 से 4 लाख श्रद्धालु भगवान श्री राम और हनुमान के दर्शन करने आते थे. इसके लिए पुलिस प्रशासन के सहयोग से विशेष इंतजाम किए जाते थे, लेकिन पिछले वर्ष भी कोविड संक्रमण के कारण भक्त हनुमान जी के दो विग्रहों वाले इस अनूठे मंदिर में दर्शन नहीं कर पाए थे. आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि राम जन्मभूमि मंदिर प्रबंधन ने भी संक्रमण के मद्देनजर भक्तों से दर्शन हेतु न आने की अपील की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज