पटना हाईकोर्ट का आदेश- 6 महीने में भरे जाएं आयुष डॉक्टरों के पद
Patna News in Hindi

पटना हाईकोर्ट का आदेश- 6 महीने में भरे जाएं आयुष डॉक्टरों के पद
पटना हाईकोर्ट (फाइल फोटो)

पटना हाईकोर्ट ने आदेश दिया कि राज्य में खाली आयुष डॉक्टरों की सभी 556 सीटों को 6 महीने के अंदर भरा जाए. मुख्य न्यायधीश एमआर शाह और जस्टिस आशुतोष कुमार की खंड पीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2018, 12:27 PM IST
  • Share this:
पटना हाईकोर्ट ने बिहार टेक्निकल सिलेक्शन कमीशन को आदेश दिया है कि राज्य में खाली आयुष डॉक्टरों की सभी 556 सीटों पर 6 महीने में नियुक्तियां की जाएं. मुख्य न्यायधीश एमआर शाह और जस्टिस आशुतोष कुमार की खंड पीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया. बिहार में कुल पांच आयुष मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल है. ये पटना, बेगुसराय, बक्सर, भागलपुर और दरभंगा में स्थित हैं.

याचिकाकर्ता गजानन अरुन ने सितंबर 2016 में एक जनहित याचिका दायर की थी जिसमें आयुष डॉक्टरों की खाली पड़ी सीटों को भरने की बात कही गई थी. साथ ही याचिका में आयुष डॉक्टरों के भर्ती और सेवा नियम 2010 में राज्य के डॉक्टर भर्ती और सेवा नियम 2013 के आधार पर संशोधन की बात कही थी.

जनहित याचिका लंबित होने के दौरान ही याचिकाकर्ता की मौत हो गई थी और इसके बाद आगे की सुनवाई के लिए वगीश प्रज्ञा को न्यायमित्र नियुक्त किया गया.



मंगलवार को सुनवाई के दौरान राज्य सरकार ने कोर्ट में काउंटर एफिडेविट दिया, जिसमें बताया गया कि सिलेक्शन कमीशन को आयुष डॉक्टरों की खाली सीटों पर भर्ती का आदेश दिया गया है. राज्य सरकार की तरफ से एफिडेविट में बताया गया कि आयुर्वेद में 101, यूनानी में 40 और होम्योपैथी आयुष फिजिशियन की 61 सीटें खाली हैं.



इसी तरह मेडिकल ऑफिसर के लिए आयुर्वेद में 160, यूनानी के 94 और होम्योपैथी आयुष फिजिशियन के 100 पद खाली है. इन पदों पर सन 2000 के बाद कोई भर्ती नहीं हुई है. सरकार ने इन सीटों पर भर्ती के लिए सिलेक्शन कमीशन से मांग करने की बात कही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading