Home /News /bihar /

how will be bihar weather on 5th july 2022 know india meteorological department imd latest forecast nodmk3

Bihar Weather Update: बिहार में कैसा रहेगा मौसम का मिजाज? तापमान को लेकर सामने आया ताजा अपडेट

बिहार में मौसम को लेकर IMD ने ताजा अपडेट जारी किया है. (IMD की वेबसाइट से साभार)

बिहार में मौसम को लेकर IMD ने ताजा अपडेट जारी किया है. (IMD की वेबसाइट से साभार)

Bihar Weather News 5th July 2022: बिहार में सक्रिय दक्षिण-पश्चिम मानसून के बीच भारतीय मौसम विभाग ने ताजा अपडेट जारी किया है. आईएमडी ने प्रदेश के कुछ हिस्‍सों में तेज हवा के साथ बारिश की संभावना जताई है. वहीं, बिहार के कई हिस्‍सों में बारिश की रफ्तार कम होने से तापमान में वृद्धि दर्ज की गई है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में मौसम को लेकर भारतीय मौसम विभाग ने ताजा पूर्वानुमान जारी किया है. मौसम विज्ञानियों ने प्रदेश में कुछ जगहों पर तेज हवा के साथ बारिश होने का पूर्वानुमान जताया है. इसके साथ ही IMD ने बिहार में सामान्‍य तौर पर कहीं-कहीं बारिश होने की संभावना जताई है. दक्षिण-पश्चिम मानसून के प्रभाव से पिछले दिनों बिहार के कई हिस्‍सों में मूसलाधार बारिश हुई थी, लेकिन पिछले कुछ दिनों से बारिश की रफ्तार में कमी आई है. हालांकि, नेपाल की सीमा से लगते जिलों में नदियों का जलस्‍तर बढ़ने से हालात बिगड़े हैं. बाढ़ के कारण प्रमुख सड़कों के डूबने के साथ ही नदी का पानी गांवों में भी घुस गया. इससे स्‍थाानीय लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. बारिश की रफ्तार कम होने से तापमान में भी वृद्धि दर्ज की जा रही है.

आईएमडी की ओर से जारी ताजा अपडेट में बिहार में 5 जुलाई को कहीं-कहीं बारिश होने की संभावना जताई गई है. इसके बाद 6, 7 और 8 जुलाई को प्रदेश के अन्‍य हिस्‍सों में भी बारिश होने का पूर्वानुमान है. इस अवधि में बिहार में मूसलाधार बारिश होने की संभावना न के बराबर है. बिहार में दक्षिण-पश्चिम मानसून के सक्रिय होने के साथ ही सीमाई इलाकों के अलावा अन्‍य हिस्‍सों में मूसलाधार बारिश हुई थी. कुछ जगहों पर तो बहुत भारी बारिश हुई थी. इसके चलते स्‍थानीय नदियां उफना गई थीं और जमीन का कटाव भी तेज हो गया था. इससे लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर जाने के लिए मजबूर होना पड़ा था.

बिहार में आंधी-तूफान के साथ ठनका गिरने की चेतावनी, जानें मौसम विभाग का लेटेस्‍ट अपडेट

नेपाल की सीमा से लगते इलाकों में नदियां उफान पर
मानसून के सक्रिय होने के बाद नेपाल के तराई वाले इलाकों में मूसलाधार बारिश हुई. इसके चलते सीमावर्ती जिलों में स्थितियां बिगड़ गईं. खासकर सीमांचल इलाके के कई जिले बाढ़ की चपेट में आ गए. कोसी, महानंदा के साथ ही स्‍थानीय नदियों के जलस्‍तर में वृद्धि से नेशनल हाइवे पर भी पानी चढ़ गया. इससे आवागमन भी प्रभावित हुआ. अररिया में तो शहरी इलाकों में कोसी नदी का पानी घुस गया, जिससे लोगों को बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा.

बिहार में खेतीबारी के लिए महत्‍वपूर्ण है मानसून की बारिश
बिहार में मानसून का समय धान की खेती के लिए जाना जाता है. बारिश पर बिहार की खेतीबारी काफी कुछ निर्भर करता है. ऐसे में मानसून बारिश का सामान्‍य रहना बिहार के किसानों के लिए काफी महत्‍वपूर्ण हो जाता है. बता दें मौसम विभाग ने इस बार दक्षिण-पश्चिम मानसून के सामान्‍य रहने की संभावना जताई है. यह प्रदेश की कृषि के लिए काफी राहत वाली बात है.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर