होम /न्यूज /बिहार /Bihar Weather Update: बिहार में अगले 4 दिनों तक कैसा रहेगा मौसम का मिजाज? IMD ने जारी किया पूर्वानुमान

Bihar Weather Update: बिहार में अगले 4 दिनों तक कैसा रहेगा मौसम का मिजाज? IMD ने जारी किया पूर्वानुमान

Bihar Weather Update: IMD ने बिहार के मौसम को लेकर पूर्वानुमान जारी किया है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी ग्राफिक्‍स)

Bihar Weather Update: IMD ने बिहार के मौसम को लेकर पूर्वानुमान जारी किया है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी ग्राफिक्‍स)

Bihar Weather News 10th August 2022: खेतीबारी से जुड़ी गतिविधियों के लिए फिलहाल अच्‍छी बारिश की जरूरत है, लेकिन भारतीय ...अधिक पढ़ें

पटना. बिहार में खेतीबारी से जुड़ी गतिविधियों को और रफ्तार मिले इसके लिए अच्‍छी बारिश की दरकार है. सूबे में बारिश के मौसम में धान की खेती व्‍यापक पैमाने पर की जाती है जो मुख्‍य रूप से वर्षा जल पर आधारित है. नदी, नहर और नलकूप से भी सिंचाई की जाती है, लेकिन ज्‍यादा हिस्‍सा मानसूनी बारिश पर ही निर्भर करता है. इस बार बिहार में मानसून की रफ्तार सामान्‍य से कम रहा है. दक्षिण-पश्चिम मानसून ने जब बिहार में प्रवेश किया था तो प्रदेश के विभिन्‍न हिस्‍सों में अच्‍छी बारिश हुई थी. उसके बाद मानसून धीरे-धीरे कमजोर पड़ता गया. इसके चलते बिहार में अभी तक सामान्‍य से कम बारिश रिकॉर्ड की गई है. मानसून के कमजोर होने का असर धान की रोपाई के रकबे पर भी पड़ा है. साथ ही इस बार बरसात के मौसम में औसत तापमान भी ज्‍यादा रिकॉर्ड किया है. मौसम विभाग के पूर्वानुमानों की मानें तो आने वाले कुछ दिनों तक बिहार में अच्‍छी बारिश होने की संभावना कम है.

भारतीय मौसम विभाग ने बिहार में बारिश की संभावना को लेकर 13 अगस्‍त 2022 तक के लिए पूर्वानुमान जारी किया है. ताजा अपडेट में बिहार में इस अवधि तक अच्‍छी बारिश होने की संभावना न के बराबर है. प्रदेश में इस दौरान कहीं-कहीं छिटपुट बारिश होने के आसार जताए गए हैं. मानसून की बेरुखी का सबसे ज्‍यादा असर किसानों पर पड़ने की आशंका गहरा गई है. सामान्‍य मानसून सूबे की अर्थव्‍यवस्‍था के लिए काफी अहम है, लेकिन इस सीजन में अभी तक औसत से कम बारिश रिकॉर्ड की गई है. इससे खेतीबारी का काम बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. पिछले साल के मुकाबले इस बार धान की रोपाई का रकबा अभी तक कम है. किसानों को उम्‍मीद है कि यदि आने वाले एक सप्‍ताह में अच्‍छी बारिश होती है तो इसकी भरपाई की जा सकेगी.

दक्षिण-पश्चिम मानसून की बेरुखी
इस बार के बारिश के सीजन में अभी तक दक्षिण-पश्चिम मानसून बिहार से रूठा ही रहा है. मानसून ने जब बिहार में एंट्री की थी तो सीमावर्ती इलाकों के साथ प्रदेश के अन्‍य हिस्‍सों में अच्‍छी बारिश रिकॉर्ड की गई थी. उसके बाद बिहार में मानसून धीरे-धीरे कमजोर पड़ता गया. बीच में कुछ हफ्तों तक सूबे में बारिश ही नहीं हुई. वहीं, तेज धूप ने हालात को और गंभीर बना दिया. इससे खेती-किसानी का काम तो प्रभावित हुआ ही भूजल का स्‍तर भी गिरता चला गया. अब एक बार फिर से मौसम विभाग ने सूबे में अच्‍छी बारिश होने की संभावना न के बराबर जताई है.

Tags: Bihar weather, IMD forecast

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें