लाइव टीवी

शराबबंदी को लेकर सख्‍त हुए CM नीतीश, पुलिस को दी कड़ी कार्रवाई करने की खुली छूट

RaviS Narayan | News18 Bihar
Updated: November 27, 2019, 12:13 PM IST
शराबबंदी को लेकर सख्‍त हुए CM नीतीश, पुलिस को दी कड़ी कार्रवाई करने की खुली छूट
सीएम नीतीश कुमार ने शराबबंदी को लेकर पुलिस को कार्रवाई करने की खुली छूट दे ही है (File Photo)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने शराबबंदी (Liquor Ban) को लेकर बड़ा ऐलान किया है. उन्‍होंने कहा कि 21 जनवरी 2020 को प्रदेश में एक बार फिर मानव श्रृंखला (Human Chain) बनाई जाएगी, जो कि कई रिकॉर्ड तोड़ देगी.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 27, 2019, 12:13 PM IST
  • Share this:
पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने नशा मुक्ति दिवस के मौके पर ऐलान किया है कि बिहार में एक बार फिर मानव श्रृंखला बनाई जाएगी. पटना के ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में सीएम ने घोषणा करते हुए कहा कि 21 जनवरी 2020 को फिर से बिहार में मानव श्रृंखला बनाई जाएगी. साथ ही दावा किया कि इस बार बनाई जाने वाली मानव श्रृंखला (Human Chain) पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ देगी. इस बार शराबबंदी (Liquor Ban), दहेज और जल जीवन हरियाली को लेकर भी बिहार में मानव श्रृंखला बनाई जाएगी. इसके अलावा सीएम ने शराबबंदी के मामले में पुलिस को कड़ी कार्रवाई करने की पूरी छूट दी है.

पुलिस अधिकारियों को कार्रवाई की पूरी छूट
नशाबंदी दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुलिसकर्मियों एवं अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि शराबबंदी के मामले में कार्रवाई करने की पूरी छूट है. शराबबंदी के मामले में चाहे जितना भी बड़ा आदमी पकड़ा जाए, उस पर कार्रवाई करने से हिचकने की जरूरत नहीं है. उन्‍होंने साफ किया कि हम न किसी को फंसाते हैं और ना ही किसी को बचाते हैं. शराबबंदी को फेल करने की जो भी कोशिश करेगा उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

शरबाबंदी से पर्यटन को कोई नुकसान नहीं

नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि लोग कहते हैं कि शराब बंदी के कारण बिहार के पर्यटन को बड़ा नुकसान पहुंचा है, लेकिन ऐसा नहीं है. उन्‍होंने मंच से ऐलान करते हुए कहा कि जो भी लोग शराब पीने के लिए बिहार आना चाहते हैं, वैसे लोगों की यहां जरूरत नहीं है. शराबबंदी से बिहार के पर्यटन को कोई भी नुकसान नहीं पहुंचा है. नीतीश कुमार ने दावा करते हुए कहा कि 2015 में जब शराबबंदी लागू हुई थी, उस समय बिहार आने वाले पर्यटकों की संख्या 2 करोड़ 89 लाख थी. 2016 में यह आंकड़ा बढ़कर 2 करोड़ 95 लाख हो गया और अभी पर्यटकों की संख्या 3 करोड़ 45 लाख है.

Liquor ban, CM नीतीश, बिहार, CM Nitish, Bihar, शराबबंदी
होम डिलीवरी की बात वो करते हैं जो घर में शराब पीते हैं-CM नीतीश


शराब की होम डिलीवरी की बात से किया इंकार
Loading...

कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने शराब बंदी के होने वाली होम डिलीवरी के आरोपियों पर सख्त आपत्ति जताई. सीएम ने कहा कि वही लोग होम डिलीवरी के बात करते हैं जो घरों में शराब पीते हैं. नीतीश कुमार ने इशारों-इशारों में आरजेडी पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग कहते हैं शराबबंदी में गरीबों को जेल में डाल दिया गया, लेकिन हकीकत यह है कि जेल में कैदियों के रहने की क्षमता 50 हजार ही है. जबकि शराबबंदी में दो लाख से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारी की गई है.

ये भी पढ़ें-
पेट्रोल टैंकर-ट्रक में जोरदार टक्‍कर, घायलों की मदद के बजाए ये काम कर रहे थे लोग

चंद घंटों के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने वाले नेता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 9:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...