अपना शहर चुनें

States

नीतीश Vs तेजस्वी: सदन में हंगामे पर सीएम का बड़ा बयान, बोले- हमने मजाक में कहा था, समझ आया लोगों को बातें लगती हैं

तेजस्‍वी यादव के नीतीश पर बच्‍चों को लेकर कमेंट के बाद सदन में जोरदार हंगामा हुआ.
तेजस्‍वी यादव के नीतीश पर बच्‍चों को लेकर कमेंट के बाद सदन में जोरदार हंगामा हुआ.

बिहार सदन में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) द्वारा मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर व्यक्तिगत टिप्पणी के बाद जोरदार हंगामा हुआ. जबकि शुक्रवार शाम को सीएम ने सफाई देते हुए कहा कि हम प्रजनन दर की बात करते रहे, उसी में मजाक में कोई बात कह दिए, लेकिन समझ आया लोगों को बातें लगती हैं.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: November 27, 2020, 11:08 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधान सभा (Bihar Legislative Assembly) में शुक्रवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) द्वारा मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर व्यक्तिगत टिप्पणी करने के कारण जबरदस्त हंगामा मच गया. इस बीच भारी शोर-शराबे के बीच डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद (Tarkishore Prasad) ने विरोधी दल के नेता के बयान को शर्मनाक करार देते हुए कहा कि सदन के भीतर ऐसे बयान नहीं देने चाहिए. तेजस्वी को मर्यादा का पालन करना चाहिए. मुख्यमंत्री पर ऐसी टिप्पणी नहीं होनी चाहिए. ये गलत परंपरा की शुरुआत है. हालांकि शाम को नीतीश कुमार ने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान प्रजनन दर पर हमने मजाक किया था.

तेजस्‍वी का पलटवार, नीतीश ने दी सफाई
बिहार चुनाव प्रचार के दौरान की तल्खी तेजस्वी यादव ने सदन में भी जारी रखी और उन्होंने सीएम नीतीश कुमार पर सदन में व्यक्तिगत टिपण्णी कर दी. उन्होंने कहा, नीतीश अपनी चुनावी सभाओं में लालू को 9 बच्चों की बात करते थे. कहते थे बेटी पर भरोसा नहीं था, बेटे के लिए 9 बच्चे हुए. क्या नीतीश कुमार को लड़की पैदा होने का डर था, इसलिए उन्‍होंने दूसरा बच्चा नहीं पैदा किया? इसके अलावा आरजेडी नेता ने कहा कि यह किसी मुख्यमंत्री को शोभा नहीं देता कि आप मेरे परिवार की बहनों को राजनीति में घसीटकर लेकर आएं. जबकि बेटे की चाह में बेटियां पैदा करते रहे बयान पर नीतीश कुमार ने सफाई देते हुए कहा कि वो तो हमने मजाक में कह दिया. हम प्रजनन दर की बात करते रहे, उसी में मजाक में कोई बात कह दिए. लोग तो खुद ही अपने बारे में सोचते हैं. मतलब एक बात तो समझ लिए कि लोगों को बातें लगती हैं. इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि तेजस्वी ने जो बातें कहीं वैसी बात नहीं करनी चाहिए. सदन में हल्की बात नहीं होनी चाहिए.







सत्ताधारी गठबंधन के विरोध के बावजूद तेजस्वी के सदन में दिए बयान का आरजेडी ने बचाव किया है. आरजेडी नेता सुबोध राय ने कहा कि व्यक्तिगत हमले नहीं होने चाहिए, लेकिन दूसरा व्यक्तिगत हमला करेगा तो हम भी चुप नहीं रहेंगे. नीरज कुमार कैसी भाषा बोलते हैं, सब जानते हैं. अभी तो कुछ नहीं हुआ और होना बाकी है. दूसरी ओर तेजस्वी के बयानों का कड़ा विरोध करते हुए जदयू नेता गुलाम रसूल बलियावी ने कहा है कि सदन के भीतर तेजस्वी ने जो बयान दिया वह बेहद शर्मनाक है. वहीं, बीजेपी नेता संजय सरावगी ने इसे तेजस्वी की हताशा बताया. सरावगी ने कहा कि तेजस्वी नतीजे से पहले ही सीएम बनकर घूम रहे हैं. अब तनाव में हैं इसलिए अनापशनाप बयान दे रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज