लाइव टीवी

मानसून आने तक ये काम नहीं हुआ खत्म तो एक बार फिर डूबेगा पटना ! फिर बढ़ी डेडलाइन
Patna News in Hindi

RaviS Narayan | News18 Bihar
Updated: May 22, 2020, 8:11 PM IST
मानसून आने तक ये काम नहीं हुआ खत्म तो एक बार फिर डूबेगा पटना ! फिर बढ़ी डेडलाइन
पटना में एक बार फिर जलजमाव का खतरा मंडरा रहा है.

पटना नगर निगम (Patna Municipal Corporation) ने पहले 3 मई तक नाला सफाई के काम खत्म करने की तारीख तय की थी. फिर बढ़कर 10 मई तक बड़े नाले और 15 मई तक छोटे नाले सफाई का टारगेट रखा गया था, पर वो भी फेल हो गई.

  • Share this:
पटना. पिछले साल पटना(Patna) में हुए जलजमाव (Water Logging)ने  सरकार और प्रशासन की कितनी फजीहत करवाई थी वो सभी को पता है. इस साल फिर पटना में कही जलजमाव ना हो जाये इसे लेकर सरकार और विभाग की सांसें फूली हुई है. हर दिन नई बैठकें और तैयारियों को लेकर नये दावे किये जा रहे हैं. लेकिन, तारीख बीत जा रही है पर तैयारी पूरी नहीं हो पा रही है.  पटना को जलजमाव से बचाने को हो रहे दावे पर नौ दिन में चले ढाई कोस वाली कहावत सिद्ध हो रही है.

दरअसल पटना नगर निगम (Patna Municipal Corporation) ने पहले तय किया कि 3 मई तक नाला सफाई के काम खत्म हो जाएगा, पर काम खत्म नहीं होने पर फिर से 10 मई तक बड़े नाले और 15 मई तक छोटे नाले सफाई का टारगेट रखा गया था. पर वो भी फेल हो गए. शुक्रवार को डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने बैठक कर 31 मई तक सभी नालों और मेनहोल की सफाई खत्म करने का निर्देश जारी किया है.

नगर विकास मंत्री से नहीं बनी बात तो डिप्टी सीएम ने संभाली कमान
नाला उड़ाही और सफाई का काम मानसून से पहले खत्म करने को लेकर नगर निगम और नगर विकास मंत्री के समीक्षा के बावजूद काम पूरा नहीं होने पर डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने बैठक कर कई बड़े फैसले लिए.सुशील मोदी ने 167 करोड़ से उच्चक्षमता के समर्सिबल पम्प खरीदने के निर्देश दिए. साथ ही 39 डीपीएस की रखरखाव की जिम्मेवारी एजेंसी को सौपने का निर्णय लिया.



पटना में बैठक करते हुए डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी




यह एजेंसी अगले 3 साल तक की जिम्मेवारी संभालेगी. 27 अस्थायी नए पम्पिंग स्टेशनों के निर्माण का भी फैसला डिप्टी सीएम ने लिया. डिप्टी सीएम ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि सभी सामानों की खरीद और लगाने का काम 31 जुलाई तक खत्म हो जाना चाहिए.

मानसून आने से पहले तक नहीं हुआ काम खत्म तो पटना का डूबना तय
नगर निगम और नगर विकास विभाग के कामो की रफ्तार बताती है कि मानसून शुरू होने से पहले बड़े छोटे नालों की सफाई और उड़ाही के काम बड़ी चुनौती है. हालांकि नगर निगम के नये आयुक्त हिमांशु शर्मा का दावा है कि मानसून से पहले जलजमाव को रोकने की सभी तैयारी पूरी ली जाएगी. इसके लिए मजदूरों की संख्या दोगुनी कर और रातदिन काम कराया जा रहा है. मानसून आने में मुश्किल से 15 से 20 दिन बचे हैं. अगर 15 से 20 दिनों में कम पूरा नही हुआ तो इस साल फिर पटना के डूबना तय है.

ये भी पढ़ें


भविष्य में अगर संख्या बढ़ती है तो Home quarantine पर भी रखें जाएंगे कोरोना मरीज: मंगल पांडे




VIDEO: बिहार के इस Quarantine center में वेस्टर्न म्यूजिक पर Aerobics करते हैं प्रवासी श्रमिक! स्कूल की भी बदल गई तस्वीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 8:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading