Home /News /bihar /

बिहार: अवैध बालू उत्खनन कांड के आरोपी पूर्व DSP तनवीर अहमद के पास अकूत संपत्ति, EOU ने किया खुलासा

बिहार: अवैध बालू उत्खनन कांड के आरोपी पूर्व DSP तनवीर अहमद के पास अकूत संपत्ति, EOU ने किया खुलासा

आर्थिक अपराध इकाई ने पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद के ठिकानों पर छापेमारी की.

आर्थिक अपराध इकाई ने पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद के ठिकानों पर छापेमारी की.

Bihar News: आय से अधिक संपत्ति के आरोपों को लेकर पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद के खिलाफ 1 सितंबर को आर्थिक अपराध इकाई थाना में केस दर्ज किया गया था. न्यायालय से वारंट मिलने के बाद उनके ठिकानों पर छापेमारी की गई.

पटना. बालू के अवैध उत्खनन मामले में आर्थिक अपराध इकाई (Economic Offenses Unit) की कार्रवाई ल जारी है. डेहरी ऑन सोन के तत्कालीन एसडीओ सुनील कुमार सिंह के बाद पालीगंज के पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद (Former DSP Tanveer Ahmed) के ठिकानों पर यूओयू की टीम ने छापेमारी कर बड़ी संपत्ति का पता लगाया है. तनवीर अहमद के पटना के दीघा -आशियाना रोड (Digha-Ashiana Road of Patna) और बेतिया के पैतृक आवास पर छापेमारी कर संपत्ति से संबंधित दस्तावेज जब किए गए हैं.आर्थिक अपराध इकाई द्वारा यह कार्रवाई आय से अधिक संपत्ति मामले में की गई है. आर्थिक अपराध इकाई के सूत्रों की मानें तो निलंबित डीएसपी तनवीर अहमद ने अपनी संपत्ति खुद के नाम से पत्नी और भाई के नाम से संयुक्त रूप से खरीदी हुई दिखाई है.

आर्थिक अपराध इकाई सूत्रों के अनुसार डीएसपी तनवीर अहमद ने करीब 1करोड़ शेयर में निवेश किए हैं. साथ ही एलआईसी और अन्य निवेश से जुड़े दस्तावेज भी आर्थिक अपराध इकाई की टीम ने उनके आवास से जब्त किए हैं..वैसे आधिकारिक तौर पर आर्थिक अपराध इकाई द्वारा यह बताया गया है कि पालीगंज के पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद की सांठगांठ बालू के अवैध उत्खनन और गैर कानूनी काम में लगे लोगों से थी और इससे काफी संपत्ति अर्जित की गई है.

ये भी पढ़ें-  जेपी विश्वविद्यालय के सिलेबस से जयप्रकाश नारायण ही आउट! अब नहीं पढ़ाए जाएंगे लोकनायक और लोहिया के विचार

आय से अधिक संपत्ति के आरोपों को लेकर पूर्व डीएसपी तनवीर अहमद के खिलाफ 1 सितंबर को आर्थिक अपराध इकाई थाना में केस दर्ज किया गया था. न्यायालय से वारंट मिलने के बाद उनके ठिकानों पर छापेमारी की गई. आर्थिक अपराध इकाई से जुड़े एक बड़े अधिकारी ने न्यूज 18 को इस बात की जानकारी दी है कि बात उजागर होने के बाद बालू मामले के आरोपियों ने अपनी संपत्तियों को छिपाना शुरू कर दिया है.

ये भी पढ़ें-  Bihar Politics: चिराग पासवान पर कितना बड़ा ‘राजनीतिक प्रहार’ है संसदीय दल अध्यक्ष पद से हटाया जाना?

तनवीर अहमद के घर पर जब छापेमारी की गई तब उनके यहां घर के खर्च लायक नगदी भी नहीं मिली . इससे अंदाजा लगता है कि आरोपी अफसरों को छापेमारी की भनक पहले ही लग चुकी थी.

Tags: Corrupt police, Corruption case, Corruption news, Sand mafia, Sand Mining

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर