Bihar : जेडीयू और बीजेपी की महत्त्वपूर्ण बैठक शनिवार को, NDA में ALL IS WELL?
Patna News in Hindi

Bihar : जेडीयू और बीजेपी की महत्त्वपूर्ण बैठक शनिवार को, NDA में ALL IS WELL?
पिछले कुछ समय में एनडीए के घटक दलों लोक जनशक्ति पार्टी और जनता दल युनाइटेड के रिश्तों में तल्खी आई है (फाइल फोटो)

चिराग के तेवर को भाजपा के नेता कैसे हैंडल करते हैं और नीतीश कुमार को कैसे समझाते हैं - इस पर शनिवार को होने वाली बैठक पर एनडीए के साथ-साथ तमाम सियासी दलों की निगाहें टिकी हुई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2020, 11:07 PM IST
  • Share this:
पटना. लोजपा (LJP) के गर्म तेवर के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के सरकारी आवास एक अणे मार्ग में शनिवार को बीजेपी (BJP) के शीर्ष नेताओं के साथ होने वाली मुलाकात को बेहद अहम माना जा रहा है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda), भूपेन्द्र यादव (Bhupendra Yadav), नित्यानंद राय (Nityanand Rai) और सुशील मोदी (Sushil Modi) के साथ नीतीश कुमार लगभग एक घंटे तक मुलाकात करेंगे, जिसमें कई महत्वपूर्ण मसलों पर चर्चा होगी. खबर है कि मुलाकात में चिराग पासवान (Chirag Paswan) के तेवर के साथ-साथ जेडीयू-बीजेपी के बीच सीटों के समीकरण को सुलझाने की कोशिश की जाएगी. साथ ही चिराग के प्रकरण को कैसे हल किया जाए - इस पर भी चर्चा होगी. सूत्र बताते है की BJP का शीर्ष नेतृत्व नीतीश कुमार को विधानसभा चुनाव में कितनी सीटों पर कौन-सी पार्टी लड़ेगी इसका ऑफर दे सकती है. सूत्र ये भी बताते हैं कि BJP जेडीयू को लोकसभा की तर्ज पर बराबर-बराबर सीट का ऑफर दे सकती है.

जेडीयू की चाह 50-50

जेडीयू के सूत्र बताते हैं कि जेडीयू बराबर-बराबर सीट के ऑफर से एक सीट ज्यादा मांग सकता है, लेकिन यहां मामला लोजपा को लेकर फंस सकता है. जेडीयू ने साफ कर दिया है कि लोजपा के साथ जेडीयू का कोई गठबंधन नहीं है. ऐसे में बीजेपी को अपने कोटे से लोजपा को सीट देना पड़ सकता है. नीतीश कुमार ये भी तर्क दे सकते हैं कि मांझी की पार्टी ने जेडीयू के साथ गठबंधन किया है. जेडीयू अपने कोटे से मांझी को सीट देगा. लोजपा के साथ बीजेपी का गठबंधन है इसलिए बीजेपी अपने कोटे से लोजपा को सीट दे.



जेडीयू के नेताओं ने साधी चुप्पी
इस मसले पर जेडीयू का कोई भी नेता कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है. पार्टी के बड़े से लेकर छोटे नेता कहते हैं कि नीतीश कुमार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं. वही तय करेंगे कि जेडीयू कितने सीट पर चुनाव लड़ेगी. वहीं बीजेपी के प्रवक्ता संजय टाइगर कहते हैं कि एनडीए में सीट बंटवारे को लेकर कोई तनाव नहीं है. गठबंधन के शीर्ष नेता परिपक्व हैं, वे इस पूरे मामले को सुलझा लेंगे.

भाजपा की रणनीति पर सबकी निगाह

लेकिन मामला लोजपा को लेकर फंस रहा है. चिराग ने साफ कर दिया है कि वे सम्मान के साथ समझौता नहीं करेंगे. वे एक तरफ BJP की तारीफ करते हैं तो दूसरी तरफ उनके निशाने पर नीतीश कुमार रहते हैं. चिराग के तेवर को भाजपा के नेता कैसे हैंडल करते हैं और नीतीश कुमार को कैसे समझाते हैं - इस पर शनिवार को होने वाली बैठक पर एनडीए के साथ-साथ बिहार के तमाम सियासी दलों की निगाहें टिकी हुई हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज