सादगी से मनेगा स्वतंत्रता दिवस, कोरोना वॉरियर्स होंगे मुख्य आकर्षण
Patna News in Hindi

सादगी से मनेगा स्वतंत्रता दिवस, कोरोना वॉरियर्स होंगे मुख्य आकर्षण
बिहार में कोरोना महामारी के कारण इस बार स्वतंत्रता दिवस सादगी से मनाने का निर्णय.

पटना के गांधी मैदान (Gandhi Maidan) में आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) समारोह में किसी भी विभाग की ओर से झांकियां नहीं निकाली जाएंगी और न ही कोई विभागीय उपलब्धि पर प्रदर्शनी लगाई जाएगी.

  • Share this:
पटना. पहली बार ऐतिहासिक गांधी मैदान (Gandhi Maidan) में 15 अगस्त को आयोजित होनेवाला स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पूरी सादगी के साथ मनेगा. इसमें न कोई झांकियां निकाली जाएंगी और न ही कोई प्रतियोगिता का आयोजन होगा. इस बार स्वतंत्रता दिवस में कोरोना वॉरियर्स (Corona warriors) ही मुख्य आकर्षण होंगे जो दिन रात कोरोना मरीजों (Corona patients) की जान बचाने में जुटे हैं. दरअसल इस बार  कोरोना से जंग लड़ रहे बिहार को कोरोना से मुक्त कराने की कोशिश में जुटे कोरोना योद्धाओं और प्लाज्मा डोनरों को विशेष रूप से समारोह के लिए आमंत्रित किया जा रहा है.

प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने बताया कि कोरोना वारियर्स के बैठने के लिए गांधी मैदान में विशेष गैलरी की व्यवस्था रहेगी. आमंत्रित सभी वॉरियर्स को समारोह के बाद जिला प्रशासन की ओर से सम्मानित किया जाएगा और बिहार वासी गवाह बनेंगे. आयुक्त ने की तैयारियों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि सादगी के साथ समारोह का आयोजन होना है इसको लेकर किसी प्रकार की गैदरिंग और भीड़ नहीं जुटेगी.

उन्होंने बताया कि कोरोना की लड़ाई में सहयोग कर रहे डॉक्टर, नर्स, एएनएम, पुलिस, निगमकर्मी, पदाधिकारी ,एम्बुलेंस चालक और योद्धा के रूप में कार्य करने वाले जो भी लोग होंगे उन्हें विशेष तौर से आमंत्रण पत्र भेजकर समारोह में भाग लेने की गुजारिश की जा रही है. पटना के जिन संस्थानों के योद्धाओं को आमंत्रित किया जा रहा है उनमें एनएमसीएच, पीएमसीएच, आइजीआइएमएस, आरएमआरआइ , एम्स और अन्य हॉस्पिटल के डॉक्टर, एएनएम, लैब टेक्नीशियन, पारा मेडिकल स्टाफ, पुलिसकर्मी, ट्रैफिक पुलिसकर्मी , सिविल ऑफिशियल, सफाई कर्मी, एंबुलेंस चालक, दवा दुकानदार सहित प्लाज्मा डोनर मौजूद रहेंगे.



वहीं, वारियर्स के अलावे अतिथि भी समारोह में सीमित संख्या में भाग लेंगे क्योंकि इस बार हर बार की तरह किसी भी विभाग की ओर से झांकियां नहीं निकाली जाएंगी और न ही कोई विभागीय उपलब्धि पर प्रदर्शनी लगाई जाएगी. आयुक्त संजय अग्रवाल ने कोरोना संक्रमण को लेकर जारी हुए गाइडलाइन को देखते हुए कहा कि समारोह में सीमित संख्या में ही आमंत्रित अतिथि मौजूद रहेंगे और उतनी ही क्षमता की बैठने की व्यवस्था रहेगी ताकि सोशल डिस्टेंसिग का पालन हर हाल में हो सके.
कार्यक्रम का सीधा प्रसारण डीडी समेत अन्य इलेक्ट्रॉनिक चैनलों के जरिये किया जाएगा ताकि घर बैठे लोग समारोह की झलकियां देख सके और समारोह में आयोजित कार्यक्रमों से वंचित नहीं रहें. समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  ससमय झंडोत्तोलन करने पहुंचेंगे. साथ ही विधानसभा अध्यक्ष, विधान परिषद के सभापति समेत कई और गणमान्य उपस्थित रहेंगे. इस अवसर पर आर्मी के जवान में सीआरपीएफ, एसएसबी, सीआइएसएफ, बीएमपी, आइटीबीपी, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ के साथ साथ सैप, डीएपी, श्वान दस्ता, फायर ब्रिगेड, होमगार्ड एवं एनसीसी की परेड होगी.

परेड की अंतिम रिहर्सल कल यानि 13 अगस्त को संपन्न होगी. सुरक्षा को देखते हुए गांधी मैदान के सभी गेट को बंद कर दिया गया है और सुरक्षाकर्मियों ने अभी से ही मोर्चा संभाल लिया है. तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए कई स्तर पर दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है जो कि सुबह से शाम तक कार्यों की मॉनिटरिंग में जुटे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज