अच्छी खबर: 12 सितम्बर से देश में चलने वाली 80 स्पेशल ट्रेनों में कई बिहार के लिए भी, देखें शिड्यूल
Darbhanga News in Hindi

अच्छी खबर: 12 सितम्बर से देश में चलने वाली 80 स्पेशल ट्रेनों में कई बिहार के लिए भी, देखें शिड्यूल
देश भर में 12 सितंबर से चलाई जाएंगी 80 स्पेशल ट्रेनें (फाइल फोटो)

पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार ने इस आशय की जानकारी देते हुए बताया कि यात्रा के दौरान ट्रेन में लोगों को सरकार द्वारा कोविड -19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा.

  • Share this:
पटना. आम लोगों की सुविधा के मद्देनजर रेल मंत्रालय (Indian Railways) ने बड़ा फैसला लिया है. पूर्व से चली आ रही श्रमिक स्पेशल, 30 एसी स्पेशल एवं 200 स्पेशल ट्रेनों के अतिरिक्त 80 स्पेशल ट्रेनों (Special Trains) का परिचालन आगामी 12 सितम्बर 2020 शुरू किया जा रहा है. इनमें से कई ट्रेनें बिहार के लिए भी हैं. पूर्व-मध्य रेल क्षेत्राधिकार से 08 ट्रेनें जबकि पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार से गुजरने वाली 12 स्पेशल ट्रेनें होंगी. इन स्पेशल ट्रेनों का परिचालन नियमित ट्रेनों के पैटर्न एवं संयोजन पर किया जायेगा. ये स्पेशल ट्रेनें पूरी तरह से आरक्षित ट्रेनें होंगे, इन ट्रेनों में कोई भी अनारक्षित कोच नहीं होगा.

(12.09.2020 के प्रभाव से) पूर्व-मध्य रेल क्षेत्राधिकार से खुलने/पहुंचने वाली स्पेशल ट्रेनें

1. 02561/02562 जयनगर-नई दिल्ली-जयनगर स्पेशल 2. 07007/07008 सिकंदराबाद-दरभंगा-सिकंदराबाद स्पेशल 3. 09051/09052 वलसाड-मुजफ्फरपुर-वलसाड स्पेशल 4. 03307/03308 धनबाद-फिरोजपुर-धनबाद स्पेशल



अन्य क्षेत्रीय रेलों से चलकर पूर्व-मध्य रेल क्षेत्राधिकार से गुजरने वाली स्पेशल ट्रेनें
( 12.09.2020 के प्रभाव से )
1. 02367/02368 भागलपुर-दिल्ली-भागलपुर स्पेशल
2. 02465/02466 मधुपुर-दिल्ली-मधुपुर स्पेशल
3. 05933/05934 डिब्रूगढ़-अमृतसर-डिब्रूगढ़ स्पेशल
4. 05909/05910 डिब्रूगढ़-लालगढ़-डिब्रूगढ़ स्पेशल
5. 05626/05625 अगरतला-देवघर-अगलतला स्पेशल
6. 02911/02912 इंदौर-हावड़ा-इंदौर स्पेशल

पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि इन ट्रेनों से यात्रा करने वाले यात्रियों को सरकार द्वारा कोविड -19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा.

मालूम हो कि देश में कोरोना के संक्रमण के शुरूआती दौर में ही स्थिति को देखते हुए रेलवे ने 22 मार्च से ही पूरे देश में पैसेंजर, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया था. लॉकडाउन के दौरान देश के विभिन्न स्थानों पर फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए रेलवे मे 1 मई से श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को शुरू किया था.

देश भर में 12 मई से राजधानी स्पेशल ट्रेनें शुरू की गईं और फिर 1 जून से 100 जोड़ी और ट्रेनों को चलाया गया. फिलहाल रेलवे द्वारा 200 से अधिक ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है. रेलवे ने हाल में ही एनडीए, नीट, जेईई जैसी परीक्षा के लिए भी ट्रेनों के परिचालन को सहमति दी है जिनमें पैसेंजर समेत इंटरसिटी एक्सप्रेस भी शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज