लाइव टीवी

अगले 10 दिन में 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाएगा रेलवे, बिहार के लिए रोजाना लगभग 150 गाड़ि‍यां
Araria News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 24, 2020, 8:14 AM IST
अगले 10 दिन में 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाएगा रेलवे, बिहार के लिए रोजाना लगभग 150 गाड़ि‍यां
अगले 10 दिन में 2600 स्पेशल ट्रेन चलाएगा रेलवे (सांकेतिक चित्र)

रेलवे ने राज्य सरकारों की जरूरत के अनुसार 2600 और श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Shramik Special Trains) का परिचालन करने का फैसला किया है. इस पहल से देश भर में फंसे 36 लाख यात्रियों को लाभ मिलेगा.

  • Share this:
पटना. जहां एक ओर देश कोविड-19 महामारी से जूझ रहा है, वहीं भारतीय रेलवे (Indian Railways) इस महत्वपूर्ण समय में लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. लॉकडाउन की वजह से दूसरे राज्यों में फ़ंसे प्रवासी मज़दूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाकर राहत प्रदान करने के रेलवे (Railway) के लगातार प्रयासों के तहत एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए रेल मंत्रालय ने अगले दस दिनों में देश भर में राज्य सरकारों की जरूरतों के अनुसार 2600 और श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Migrant Special Worker Trains) का परिचालन करने का फैसला किया है. इनमें से लगभग 150 ट्रेनें रोजाना बिहार आएंगी. इस पहल से देश भर में फंसे 36 लाख यात्रियों को लाभ मिलेगा.

1 मई से चलाई जा रही हैं स्पेशल ट्रेन

भारतीय रेलवे ने लॉकडाउन के कारण अलग अलग राज्यों में फंसे प्रवासी कामगारों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य व्यक्तियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए 1 मई 2020 से 'श्रमिक स्पेशल' ट्रेनों का परिचालन शुरू किया था. इन विशेष ट्रेनों को मानक प्रोटोकॉल के हिसाब से दोनों संबंधित राज्य सरकारों के अनुरोध पर एक राज्य से दूसरे राज्य के बीच चलाया जा रहा है. इन श्रमिक स्पेशल ट्रेन के लिए समन्वय और सुचारू परिचालन के लिए रेलवे और राज्य सरकारों ने वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है.



1जून से शुरू हो रही हैं 200 ट्रेन



रेलवे 2600 ट्रेनों का परिचालन करेगा. इन ट्रेनों से दूसरे राज्यों में फ़ंसे लगभग 36 लाख प्रवासी मज़दूरों को उनके गृह राज्यों तक पहुंचाया जाएगा. श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अलावा रेल मंत्रालय ने 12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू किया है और 1 जून, 2020 से 200 ट्रेन सेवाओं को शुरू करने की घोषणा की है.

सबसे अधिक 798 ट्रेनें बिहार आईं

अब तक देश भर में चली 1600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में से सबसे ज्‍यादा ट्रेनें बिहार के लिए ही चली हैं. बिहार में 798 ट्रेनें अलग अलग राज्यों से प्रवासी मज़दूरों को लेकर प्रदेश आ चुकी हैं. इन 798 ट्रेनों से 10 लाख के क़रीब श्रमिक बिहार पहुंच चुके हैं. धीरे-धीरे रेलवे बिहार आने वाले ट्रेनों की संख्या में और वृद्धि कर रही है. आने वाले दिनों में बिहार के लिए रोजाना डेढ़ सौ से अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी चल रही है ताकि ज्यादा से ज्यादा प्रवासी अपने घरों को पहुंच सकें.

ये भी पढ़ें- प्रवासी मजदूर ने गाया 'नून रोटी खाएंगे, बिहारे में रह जाएंगे.. तो नीतीश बोले- ठीक है 

ये भी पढ़ें- बिहार: 25 फीट गहरे मेनहोल में गिरा दो साल का मासूम, जान की परवाह किए बिना छात्र ने कूदकर बचाई जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अररिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 24, 2020, 6:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading