Bihar Election: चुनाव से पहले ही पप्पू यादव को लगा झटका, पीडीए गठबंधन से अलग हुआ यह दल

जाप प्रमुख पप्पू यादव
जाप प्रमुख पप्पू यादव

Bihar Election 2020: बिहार में होने वाले चुनाव को लेकर पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी ने विभिन्न दलों के साथ गठबंधन किया है और कई सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

  • Last Updated: October 12, 2020, 10:41 AM IST
  • Share this:
धर्मेन्द्र कुमार

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राज्य में कई गठबंधन तैयार हुए हैं और अब उनमें चुनाव (Bihar Election 2020) से पहले ही फूट पड़ने लगा है. जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने पीडीए गठबंधन बनाया, लेकिन अब चुनाव से पहले ही गठबंधन की गांठ खुलने लगी है. इसी कड़ी में पीडीए गठबंधन में शामिल इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) ने अलग होने का ऐलान कर दिया है. इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के महासचिव मुख्तार अंसारी ने बताया है कि कॉमन मिनिमम प्रोग्राम और सीटों पर सहमति न बनने के कारण पीडीए गठबंधन से उनकी लीग अलग हो रही है.

IUML के महासचिव मुख्तार अंसारी ने बताया कि बिहार विधानसभा चुनाव में मुस्लिम वोटरों की हिमायती बनने वाले पप्पू यादव ने इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग से पीडीए का गठबंधन तो जरूर कर लिय, लेकिन मुस्लिम लीग द्वारा की गई मांगों पर गौर नहीं किया. खासकर जब सीट शेयरिंग की बातें आईं तो सीट शेयरिंग के दौरान भी पीडीए और इंडियन मुस्लिम लीग में समन्वय नहीं बैठा और भी कई बातों की सहमति नही बन पाई इसी को देखते हुए इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने पीडीए गठबंधन से अलग होने का फैसला लिया है.



जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की उपस्थिति में इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग की बिहार यूनिट प्रगतिशील डेमोक्रेटिक अलायंस यानी पीडीए में शामिल हुई थी. इससे पहले दो दल इसमें शामिल हुए थे, लेकिन चुनाव से पूर्व ही इस गठबंधन  में सहमति नहीं बनने कारण इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग अलग हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज