अपना शहर चुनें

States

रूपेश सिंह हत्याकांडः हत्या पर सवाल, कठघरे में सरकार

पटना में मारे गए रूपेश सिंह की फाइल फोटो
पटना में मारे गए रूपेश सिंह की फाइल फोटो

बिहार में दानव राज का आरोप लगाते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा है कि 'सी ग्रेड पार्टी के अनुकंपाई मुख्‍यमंत्री' नीतीश कुमार से बिहार नहीं संभल रहा है, इसलिए वे अविलंब इस्तीफा दें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 10:56 PM IST
  • Share this:
पटना. इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या को लेकर बिहार में सियासत गरमा गई है. विपक्ष और सत्‍ताधारी भाजपा ने कानून-व्‍यवस्‍था को लेकर सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने तो कहा कि नीतीश कुमार से बिहार नहीं संभल रहा है. उनको कुर्सी छोड़ देनी चाहिए. कानून-व्‍यवस्‍था के मुद्दे पर भाजपा सांसदों व विधायकों ने भी कड़े बयान दिए हैं. एक साथ सभी ने बिहार में अपराध नियंत्रण के लिए उत्‍तर प्रदेश वाला एनकाउंटर मॉडल लागू करने की मांग नीतीश कुमार से की है. उधर, कानून-व्‍यवस्‍था के मामले में बीजेपी नेताओं के बयानों पर जनता दल यूनाइटेड ने आपत्ति जताते हुए कहा है कि नीतीश कुमार को किसी से सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है.

रूपेश हत्‍याकांड के साथ हाल के अन्‍य बड़े मामलों की चर्चा करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने सरकार को कटघरे में खड़ा किया है. बिहार में दानव राज का आरोप लगाते हुए उन्‍होंने कहा है कि 'सी ग्रेड पार्टी के अनुकंपाई मुख्‍यमंत्री' नीतीश कुमार से बिहार नहीं संभल रहा है, इसलिए वे अविलंब इस्तीफा दें. बताते चलें कि गृह विभाग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास ही है.

कानून-व्यवस्था के मामले में कोताही बर्दाश्त नहीं- भाजपा



भाजपा नेता व सरकार के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने पुलिस-प्रशासन को कानून-व्यवस्था के मामले में और सजग रहने के सुझाव देते हुए कहा कि कानून-व्यवस्था के मामले में कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी. इसके साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश का जिक्र करते हुए कहा कि यूपी में योगी मॉडल का अच्छा बताया है. भाजपा के छत्तीसगढ़ सह प्रभारी और बांकीपुर के विधायक नितिन नवीन ने भी बिहार में सरकार को अपराध नियंत्रण का उत्‍तर प्रदेश वाला एनकाउंटर मॉडल लागू करने का सुझाव दिया है. उन्होंने कहा है कि बिहार में कानून-व्यवस्था की स्थिति हर दिन खराब होती जा रही है. सरकार को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए. महाराजगंज से भाजपा सांसद जर्नादन सिंह सिग्रीवाल ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हुए अपराधियों को गोली मारने की वकालत की है. छपरा के बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूढ़ी भी पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर चुके हैं.
पांच दिन में निष्कर्ष दें या सीबीआई को सौंपें मामला

बीजेपी के राज्यसभा सदस्य विवेक ठाकुर ने घटना को दुखद और गंभीर बताते हुए सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा किया है. उन्होंने कहा कि शून्य आपराधिक पृष्ठभूमि वाले व्यक्ति की सरेशाम गोली मारकर हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है. यह बिहार में एनडीए की सरकार के लिए चुनौतीपूर्ण स्थिति है. बिहार पुलिस पर यह एक सवाल है. इसलिए पुलिस को तीन से पांच दिन के अंदर निष्कर्ष पर आना ही पड़ेगा. बिहार पुलिस अपनी पूरी क्षमता से स्थिति का जायजा ले और अगर सफलता दूर लगे तो केस को अविलंब सीबीआई को सौंपे. उन्‍होंने सवाल किया कि क्या यह हत्या राजनीति से प्रेरित है या राज्य में खौफ पैदा करने की कोशिश है?



नीतीश मॉडल से चलेगा बिहार : जदयू

हत्या के बाद विपक्ष के साथ -साथ सत्ता पक्ष के सहयोगी दल भाजपा के हमले पर जेडीयू ने पलटवार करते हुए विधायक नितिन नवीन सहित कई नेताओं द्वारा बिहार में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाने और यहां यूपी के योगी आदित्य नाथ के मॉडल को अपनाने संबंधी बयान पर कहा कि बिहार में नीतीश मॉडल से ही अपराध पर नियंत्रण होगा. जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता संजय कुमार ने बीजेपी विधायक के बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि बिहार में नीतीश कुमार की सरकार है और कानून व्यवस्था नियंत्रण में है. नीतीश मॉडल से बिहार के विकास के साथ कानून का राज भी स्‍थापित हुआ है. नीतीश सरकार को कानून व्यवस्था पर किसी से सर्टिफिकेट की जरुरत नहीं है.

(डिस्क्लेमरः ये लेखक के निजी विचार हैं.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज