• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • मसूद अजहर को 'साहब' बताने वाले जीतन राम मांझी बोले- ये स्लिप ऑफ टंग था

मसूद अजहर को 'साहब' बताने वाले जीतन राम मांझी बोले- ये स्लिप ऑफ टंग था

जीतनराम मांझी (फाइल फोटो)

जीतनराम मांझी (फाइल फोटो)

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को 'साहब' बताने वाले बयान पर मचे सियासी हंगामे के बाद अब बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और 'हम' पार्टी के प्रमुख जीतनराम मांझी ने इसे लेकर अपनी सफाई दी है.

  • Share this:
    जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को 'साहब' बताने वाले बयान पर मचे सियासी हंगामे के बाद अब बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और 'हम' पार्टी के प्रमुख जीतनराम मांझी ने इसे लेकर अपनी सफाई दी है. मांझी ने कहा कि स्लिप ऑफ टंग था, मेरी जुबान फिसल गई थी. उन्होंने कहा कि लोग बेमतलब तूल दे रहे है. पत्रकारों ने जब बार-बार पूछा तो बोले कि ये स्लिप ऑफ टंग था.

    बताते चलें कि पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड और जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को आखिरकार बुधवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) ने ग्लोबल टेररिस्ट घोषित कर दिया. इसके बाद पूरे देश में पक्ष और विपक्ष में बयानबाजी शुरू हो गई है. इस बीच, जीतनराम मांझी ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना को 'साहब' कह दिया है.

    दरअसल, मसूद मामले पर बोलते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि मसूद अजहर 'साहब' को पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के समय से ही आतंकी घोषित करने का प्रयास किया जा रहा था. इत्तेफाक है कि इस बार मसूद को अंतराष्ट्रीय आतंकी घोषित किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसका क्रेडिट लेना उचित नहीं है. ये देश की जीत है लेकिन ये बहुत देर से हुआ है.

    इससे पहले भी आरजेडी विधायक हाजी सुभान ने भी मसूद अजहर को 'साहब' कहा था.

    (इनपुट- धर्मेंद्र)

    ये भी पढ़ें- 

    लोकसभा चुनाव 2019: संघवाद और समाजवाद की 'जंग' में दरभंगा का दिल जीतने की चुनौती

    आरा लोकसभा सीट: क्या आरा सीट पर टूटेगा 'एक बार जीत' का मिथक?

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज