Bihar Election 2020: 12वीं में फर्स्ट आने पर बाइक/स्कूटी देंगे पप्पू यादव, जानें चुनावी प्रतिज्ञा पत्र की बड़ी घोषणाएं

पटना में प्रेस के लोगों से बात करते पप्पू यादव (File Photo)
पटना में प्रेस के लोगों से बात करते पप्पू यादव (File Photo)

Bihar Assembly Election: पटना में पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने कहा है कि बिहार में हमारी सरकार उच्च तकनीकी और आधुनिक शोध संपन्न शिक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराएगी. उन्होंने पटना में ये प्रतिज्ञा पत्र जारी किया है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 24, 2020, 4:06 PM IST
  • Share this:
पटना. पप्पू यादव की अगुआई वाली जन अधिकार पार्टी ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) से पहले अपना प्रतिज्ञा पत्र जारी किया है. पटना में प्रतिज्ञा पत्र को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने फर्स्ट जुडिशियल मजिस्ट्रेट के सामने शपथ पत्र के साथ जारी किया. प्रतिज्ञा पत्र जारी करने के बाद पप्पू यादव ने कहा कि बिहार को 30 साल तक दो भाइयों ने लूटा है. आज एक सेवक और बिहार के बेटे के रूप में मैं एक कार्यकाल मांग रहा हूं.

पप्पू ने कहा कि पहली बार फॉरवर्ड, बैकवर्ड, हिन्दू, मुस्लमान, दलित, महादलित जैसे शब्दों को बिहार से उखाड़ने का काम इस प्रतिज्ञा पत्र के माध्यम से किया है. वीरकुंवर सिंह, विद्यापति, सम्राट अशोक, आर्यभट्ट की इस भूमि पर भोजपुरी और मैथली का अद्भुत संगम है. पूरी दुनिया में ऐसा सिर्फ बिहार के पास है. प्रतिज्ञा पत्र को ज्ञान, संघर्ष और परिश्रम का दस्तावेज बताते हुए पप्पू यादव ने कहा कि सभी समुदायों को समान हक और सम्मान देने के लिए सभी वर्गों से एक-एक डिप्टी सीएम बनाए जाएंगे.

पप्पू यादव ने इंटर की परीक्षा प्रथम श्रेणी से पास करने वाले छात्रों को मोटरसाइकिल एवं छात्राओं को स्कूटी देने की घोषणा की है. स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार का भरोसा दिलाते हुए जाप अध्यक्ष ने कहा कि तीन साल के अंदर हर अनुमंडल में 300 बेड का अस्पताल, ढाई साल के अंदर ब्लॉक और जिला मुख्यालयों के अस्पतालों को सुपर स्पेशलिस्ट अस्पताल बनाएंगे. सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर फिल्म सिटी के निर्माण की घोषणा करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि आज यदि बिहार के प्रतिभावान युवा दूसरे राज्यों में उपेक्षा के शिकार हो रहे है उसका कारण बिहार में खेल और मनोरंजन के लिए आधारभूत संरचना का अभाव है.
पप्पू ने पटना में कहा कि मिड डे माल रसोइये, विकास मित्र, टोला सेवक, शिक्षा सेवक तालिमी मरकज़ और आंगनवाड़ी सेविकाओं के मानदेय को बढ़ाने की बात प्रतिज्ञा पत्र में की गई है. इसके अलावा वृद्ध और विधवा पेंशन समेत सभी प्रकार के पेंशन की राशि को 500 से बढ़ाकर 3,000 रुपये प्रतिमाह करने की भी बात की गई है. वित्त रहित प्रोफेसर, गेस्ट फैकल्टी प्रोफेसर, निविदा, संविदा, नियोजित पर बहाली नहीं होगी. सभी की स्थाई नियुक्ति की जाएगी.




पप्पू यादव ने कहा कि छोटे और मझोले व्यवसायियों के सहयोग के लिए विशेष पैकेज के साथ स्पेशल टास्क फ़ोर्स के निर्माण और राज्य में बड़े उद्योगों के लिए व्यापारियों को टैक्स में छूट और भूमि उपलब्ध कराई जाएगी. इसके साथ-साथ किसानों को लागत से 50% ज्यादा पैसा और कृषि आधारित कारखाने को भी बढ़ावा दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज