32 साल पुराने केस में हुई है पप्पू यादव की गिरफ्तारी, पटना से मधेपुरा भेजने की तैयारी

राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव

राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव

Pappu Yadav Arresting: पूर्व सांसद पप्पू यादव के खिलाफ मधेपुरा के कुमारखंड थाना कांड संख्या 9/89 दर्ज था जिसको लेकर कोर्ट ने वारंट जारी किया है. मंगलवार की सुबह पटना से पप्पू यादव की गिरफ्तारी हुई है.

  • Share this:

पटना. जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव (Pappu Yadav) की गिरफ्तारी 32 साल पुराने मामले में हुई है. मंगलवार को पटना में पप्पू यादव की गिरफ्तारी (Pappu Yadav Arrresting) के बाद अब उनको मधेपुरा भेजने की तैयारी चल रही है और माना जा रहा है कि मंगलवार की देर शाम तक ही उनको पटना से मधेपुरा भेज दिया जाएगा . दरअसल जब सुबह में पटना स्थित आवास से पप्पू यादव की गिरफ्तारी हुई तो लॉकडाउन के उल्लंघन समेत अन्य अन्य मामलों में गिरफ्तारी के कयास लगाए जा रहे थे लेकिन इसके बाद जब पूरे मामले का पटाक्षेप हुआ तो वह मधेपुरा से जुड़े एक केस का निकला.

मधेपुरा के पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को पटना पुलिस ने गिरफ्तार किया है. सारण में जिस तरह पूर्व सांसद पप्पू ने राजीव प्रताप रूडी के दफ्तर में खड़ी एम्बुलेंस का मामला उठाया, उसके बाद राजनीतिक हलचल तेज हो गई. पूर्व सांसद पप्पू यादव पर राजनीतिक दबाब बढ़ गया. इसी बीच उनकी गिरफ्तारी से मधेपुरा में भी गहमागहमी बढ़ गयी है.

Youtube Video

बताया जा रहा है उनके खिलाफ मधेपुरा के कुमारखंड थाना कांड संख्या 9/89 दर्ज था जिसको लेकर कोर्ट ने वारंट जारी किया है. ये समन मार्च 22 को 2021 में न्यायालय द्वारा जारी किया गया है. मधेपुरा पुलिस कुमारखंड थानाध्यक्ष ने इसकी पुष्टि की है कि मधेपुरा पुलिस पटना जा रही है और उनको पटना से मधेपुरा लाया जाएगा.
पटना में जिस तरह से पप्पू यादव की गिरफ्तारी हुई है उनके समर्थकों से लेकर सोशल मीडिया तक में उबाल है. पप्पू यादव को गिरफ्तार करने के बाद तुरंत उन्हें पटना के गांधी मैदान थाना में रखा गया है. सूत्र बताते हैं कि मधेपुरा पुलिस पप्पू यादव को पटना से मधेपुरा लाने की कवायद में जुट गई है और शाम तक ये प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज